Halloween party ideas 2015

 प्रदेश की महिला कल्याण एवं बाल विकास, पशुपालन, दुग्ध विकास, एवं मत्स्य विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रेखा आर्या द्वारा विधान सभा स्थित सभाकक्ष में डेरी एवं दुग्ध विकास से सम्बन्धित विभागीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। 


समीक्षा बैठक में मंत्री द्वारा विभागीय अधिकारियों से विभाग में किसानों, दुग्ध विकास संघों तथा इससे जुडी समितियों से सम्बन्धित लोगो की आय में बढोत्तरी करने एवं उनके कल्याण से सम्बन्धित वर्तमान समय में संचालित की जा रही विभिन्न योजनाओं और क्रियाकलापों की जानकारी लेते हुए दुग्ध उत्पादन में बढोत्तरी करने, उसकी गुणवत्ता बढाने तथा उत्पादों को उपभोक्ता की डिमांड के अनुसार पहुॅच सुनिश्चित करने के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होने निर्देश दिये कि दुग्ध से विभिन्न प्रकार के ऐसे उत्पाद तैयार करंे जिनकी बाजार में बहुत अधिक माॅग है साथ ही विभिन्न उत्पादों की माॅग बढाने के लिए उसकी ब्राडिंग व मार्केटिंग पर बेहतर काम करें।  

 किसानों, पशुपालको तथा दुग्ध संघों से जुडे सदस्यों को अच्छे नस्ल की गाॅय-भैस, उपलब्ध कराने के लिए हर वर्ष पशु मण्डी लगाने के अधिकारियों को निर्देश दिये। इसके अतिरिक्त उन्होने ऐसे दूरस्थ क्षेत्रों में जहाॅ पर सडक की कनेक्टिविटी बेहतर नही है वहाॅ पर महिलाओं के समूह के माध्यम से दुग्ध के कलेक्शन के अवसर तरासने के भी निर्देश दिये जिससे महिलाएॅ भी आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बन सके। उन्होने विभाग द्वारा किसानों, पशुपालको, दुग्ध संघों व दुग्ध समितियों के कल्याण हेतु चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं का व्यापक प्रचार-प्रसार करने तथा इस सम्बन्ध में लोगो के लिए टोल फ्री नम्बर भी जारी करने के अधिकारियों को निर्देश दिये।  

बैठक में दुग्ध विकास विभाग के सचिव, आर. मीनाक्षी सुन्दरम, सयुक्त सचिव, जयदीप अरोडा,     जी.एम. ए. के नेगी, डीजीएम मोहन चन्द्र व आर एन तिवारी तथा वरिष्ठ दुग्ध निरीक्षक सुनील कुमार उपस्थित थे।

Post a comment

Powered by Blogger.