Halloween party ideas 2015


देहरादून :

 



 जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार ने आज स्मार्ट सिटी परियोजना द्वारा घण्टाघर से पल्टन बाजार-कोतवाली तक बिछाई गई टाइल्स, स्मार्ट सिटी के भूमिगत ड्रेनेज, सिवरेज कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया तथा साथ में चल रहे स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारियों, लो.नि.वि एवं नगर निगम के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

जिलाधिकारी ने बाजार के निरीक्षण के दौरान टाइल्स बिछाने से कई स्थानों पर टाईल्स उखड़ने से लोगों के गिर कर चैटिल होने की शिकायतें प्राप्त होने , वर्षा के पानी से दुकानों का लबालब भरना, चैक नालियों की सफाई न होने, सड़क का समतलीकरण करवाने के अलावा शहर में पैदल आवाजाही के स्थान पर चैपहिया वाहनों का आगमन पर रोक लगाये जाने के निर्देश स्म्बन्धित विभागीय अधिकारियों को दिए। 

जिलाधिकारी ने शहर कोतवाली में भूमिगत विद्युत केबिल हेतु 990 केवीए विद्युत ट्रांस्फार्मर स्थापित करने हेतु भू चिन्हिांकन किया तथा स्मार्ट सिटी एवं विद्युत विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कोतवाल को व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों के साथ समन्वय बैठक कर शहर में यातायात , पार्किंग, सुरक्षा व्यवस्थाओं को पुख्ता करने के निर्देश दिए। उन्होंने घंटाघर/सीएनआई चैक से कोतवाली तक 400 मीटर क्षेत्र में स्मार्ट सिटी द्वारा भूमिगत ड्रेनेज, सिवरेज, टाइल्स बिछाने  जैसे निर्माण कार्यों को देखा, उन्होंने शुलभ शौचालय, पार्किंग हेतु नगर निगम एवं स्मार्ट सिटी परियोजना को स्थान चयनित करने के निर्देश दिए। इस दौरान कोतवाली से धामावाला क्षेत्र  में वर्षा जल से दुकानेां में पानी घुसने, उबड़-खाबड़, रोड को समतलीकरण करने के साथ ही बाजार में आवागमन सुलभ बनाने, चैक नालियों को खोलने सम्बन्धी समस्यायें क्षेत्रीय व्यापारियों ने जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत की। निरीक्षण के दौरान सी.जी.एम श्रीराम मिश्रा, एजीएम जे.एस चैहान, वित्त निंयंत्रक अभिषेक आनन्द, एस.एच.ओ रितेश शाह तथा नगर निगम मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ आर के सिंह समेत सम्बन्धित विभागों के अधिकारी  उपस्थित थे। 


देहरादून :


 जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सी.बी.एस. रावत ने अवगत कराया है कि जनपद के गुनियाल गावं मं पंचम धाम ‘‘ सैन्यधाम’’ का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें राज्य के समस्त शहीदों के नाम शिलापट्ट पर अंकित किये जायेंगे। शिलापट्ट में प्रथम एवं द्वितीय विश्वयुद्ध के शहीदों के नाम भी अंकित किये जायेंगे। प्रथम द्वितीय विश्व युद्ध को हुए लगभग 76 वर्ष हो चुके हैं। इन युद्धों में शहीद हुए सैनिकों के सत्यापित अभिलेख बहुत कम उपलब्ध हैं। उन्होंने सर्वसाधारण को सूचित किया है कि यदि किसी के पूर्वज अथवा सगे-सम्बन्धी प्रथम एवं द्वितीय विश्व युद्ध में शहीद हों और उनके पास इस बात का पक्का प्रमाण हो तो उनके नाम उपयुक्त प्रमाण के साथ जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय देहरादून को उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है।

-

देहरादून :


जि.सू.का), जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने अवगत कराया है कि पूर्व सैनिकों एवं सैनिक विधवाओं के आश्रित छात्र/छात्राओं को पिछले वर्ष की भांति सैनिक पुनर्वास संस्था द्वारा देय  वर्ष 2021-2022 की छात्रवृत्ति  हेतु आवेदन http://sainikkalyan.org>>OnlineApplication,  http://serviceonline.gov.in/uksainikkalyan/

वेबसाईट पर कर सकते हैं। उक्त वेबसाईट पर  पूर्व सैनिक/सैनिक विधवा अपना पंजीकरण कर मूल दस्तावेज सत्यापन करवाये तदोपरान्त सम्बन्धित अनुदान के लिए आनलाईन आवेदन करें। काम सर्विस सेन्टर के माध्यम से भी पंजीकरण और आवेदन किया जा सकता हैं। अग्रिम कार्यवाही हेतु अपलोड दस्तावेज को डाउनलोड कर मूल दस्तावेजों सहित 07 दिन के भीतर सैनिक कल्याण कार्यालय में उपस्थित हों। आॅफलाईन आवेदन स्वीकार नही किये जायेंगे। अधिक जानकारी के लिए जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता है। 


                                                

Post a Comment

Powered by Blogger.