Halloween party ideas 2015

  

कनखल:




पर्यावरणविद हरमीत इंदौरिया पर हुए जान लेवा हमले में कुछ सामाजिक संगठनों द्वारा थाना कनखल का घेराव किया गया।

मामले का संज्ञान लेते हुए डीजीपी उत्तराखंड ने इस मामले पर जांच के आदेश दे दिए हैं सीओ सिटी को 2 दिन में इस पर कार्यवाही कर जांच कराना सुनिश्चित करना होगा.


 पीड़ित के अनुसार मामला 31 मई का है जब रात को 10 बजे के आसपास पीड़ित पर  खुद को पत्रकार बताने वाली वंदना गुप्ता, इ टी  वी का पत्रकार आशु शर्मा और संचित ग्रोवर तथा इनके अन्य साथियों द्वारा जान लेवा हमला किया गया था।

 पीड़ित इन्हीं हमलावारों द्वारा 4 अप्रैल को एक रिटायर अध्यापक पर किए गए हमले का चश्मदीद गवाह हैं ।इसी कारण उपरोक्त सभी हमलावर पीड़ित से रंजिश रखते थे ।पीड़ित के सिर और हाथ में किसी धारदार हथियार से हमला किया गया था जिसकी एफ आई आर लिखने के लिये 1 मई में थाना कनखल को रजिस्ट्री द्वारा शिकायती पत्र दिया गया था।

 साथ ही हमलावरो पर हरिद्वार पोलिस का सहयोग होने के शक की वज़ह से पीड़ित द्वारा एक प्रार्थना पत्र डी जी पी उत्तराखंड के समक्ष पेश हो कर भी दिया गया जिसके बाद दिनाँक 10 जून तक पोलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं होने की वजह से नाराज पीड़ित से जुड़े कुछ सामाजिक संगठन भीम आर्मी विधानसभा , आजाद समाज पार्टी ,  चमार वल्मिकी महासभा,  तथा वन गुज्जर युवा संगठन ग्रामीण हरिद्वार के सदस्यों द्वारा कनखल थाने का घेराव किया गया, थाना प्रभारी कमल कुमार लूँठी द्वारा बताया गया कि जांच एस. पी. सिटी द्वारा होनी हैं, इसी लिए वह अभी कुछ नहीं कर सकते।

पीड़ित और उसके संगठन साथी एस पी सिटी कार्यालय पहुंचे, वहां मौजूद एस पी क्राइम ने पीड़ित की पूरी बात सुनी और हमलावरो के खिलाफ जल्द से कार्यवाही करने का आश्वासन भी दिया ! सभी संगठनों ने यह तय किया है की यदि इसके बाद भी हमलावरों के खिलाफ यदि कोई कानूनी कार्यवाही जल्दी नहीं की गई तो एक बड़ा आंदोलन किया जायेगा !

इस मौके पर भीम आर्मी विधानसभा अध्यक्ष  आशु चंचल  , चमार वाल्मिकी महासभा संस्थापक  भंवर सिंह और सृमिक ,आजाद समाज पार्टी महानगर अध्यक्ष विशाल प्रधान,

वन गुज्जर युवा समाज के अमित गुज्जर   हमजा रजा ,इरान बढ़ाना ,  अपने अपने सदस्यों के साथ भारी संख्या में मौजूद थे!

Post a Comment

Powered by Blogger.