Halloween party ideas 2015


 देहरादून :



 राज्य सरकार किसानों की आय दोगुनी करने के लिए संकल्पबद्ध है , जिसके तहत राज्य के सीमांत किसानों को एक लाख से लेकर पांच लाख तक के ऋण शून्य ब्याज दर पर उपलब्ध कराये जा रहे हैं । किसानों को ब्याज मुक्त ऋण वितरण में किसी तरह का भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा । दोषी पाये जाने पर सहकारिता विभाग व बैंक के संबंधित अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी । 


यह बात सहकारिता , उच्च शिक्षा , दुग्ध विकास एवं प्रोटोकॉल मंत्री डॉ . धन सिंह रावत ने आज सहकारिता विभाग द्वारा देहरादून में आयोजित किसान ऋण मेले में कही । उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की आय दुगना करने के उद्देश्य से दीन दयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के अंतर्गत किसानों , महिला स्वयं सहायता समूहों एवं बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने हेतु रूपये एक लाख , तीन लाख और पांच लाख तक के ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध करा रही है । इसके लिए प्रत्येक जिले में योजना के अंतर्गत कृषि ऋण मेलों का आयोजन किया जायेगा । जिसमें मुख्यमंत्री स्वयं लाभार्थियों को ब्याज मुक्त ऋण के चैक वितरित करेंगे । जिसकी शुरूआत मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा विगत माह जनपद ऊधमसिंह नगर से कर चुके हैं ।


इसी कड़ी में आज जनपद देहरादून के एक निजी फार्म हाउस में कृषि ऋण मेले का आयोजन कर लाभार्थियों को 50 लाख के चैक वितरित किये गये । जिसमें मनीषा , ज्योति और रीना महिला स्वयं सहायता समूहों श्यामपुर को पशुपालन एवं सिलाई / पार्लर हेतु पांच - पांच लाख रूपये , सरस्वती , लक्ष्मी और दुर्गा महिला स्वयं सहायता समूहों रायवाला को पशुपालन हेतु ढाई - ढाई लाख रूपये के चैक वितरित किये गये । कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि टिहरी सांसद माला राज लक्ष्मी शाह ने विभागीय मंत्री डॉ . रावत नेतृत्व में किसानों के हित में चलाई जा रही ब्याज मुक्त ऋण योजना की खूब सराहना की । उन्होंने कहा कि किसानों को इस योजना का भरपूर फायदा उठाना चाहिए ताकि उनकी आय दोगुनी हो सके । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ विधायक हरवंश कपूर ने बेरोजगारों , महिलाओं और किसानों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं को राज्य सरकार की विकासकारी नीतियों का परिणाम बताया । सहकारिता विभाग के निबंधक बीएम मिश्रा ने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि विभाग द्वारा किसानों एवं बेरोजगारों के लिए ब्याज मुक्त ऋण के अलावा विभिन्न जनपदों में भेड़ - बकरी पालन , मत्स्य पालन , मौन पालन , गुलाब , सेब , अदरक , मसाला की खेती , साइलेज , लैमनग्रास की खेती सहित तमाम योजनाएं चलाई जा रही है । जिसका लाभ किसानों को बखूबी मिल रहा है । कार्यक्रम के दौरान विरेन्द्र सिंह रावत बिन्दराज सिंह , सोबन सिंह , भगवान सिंह , रमा बिष्ट , अब्बल सिंह , गौरव सिंह व नागचंद को कृषि व कृषि यंत्र , बागवानी , डेयरी एवं पशुपालन के लिए तीन लाख रूपये के ब्याज मुक्त ऋण के चैक वितरित किये गये । कार्यक्रम में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत डेढ़ दर्जन युवाओं को रोजगार सृजन के लिए विभागीय मंत्री डॉ . रावत एवं अन्य अतिथियों द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किये गये । जबकि हेम विक्रम शाही , योगेश चंद्र , प्रमोद भट्ट , पंकज जोशी , आशीष रतूडी , शिवम रावत , अंजना , तरूण , अजमेर सिंह , राजेंद्र राणा , भारती जोशी , सकीना , अजय पुंडीर , गुजंन वर्मा , सोनी देवी आदि को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के लाभार्थियों को भी प्रमाण पत्र देकर प्रोत्साहित किया गया । कृषि मेले में सहकारिता विभाग कीस्मारिका ' सहकारिता के बढ़ते कदम ' का विमोचन भी किया गया । जिसका सम्पादन वरिष्ठ पत्रकार शीशपाल गुसांई द्वारा किया गया है । 


इस अवसर पर देहरादून के महापौर सुनील उनियाल गामा , दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री खेम सिंह पाल , उत्तराखंड राज्य सहकारिता बैंक के अध्यक्ष दान सिंह रावत , उत्तराखंड राज्य सहकारी संघ के अध्यक्ष बृजभूषण गैरोला , उत्तराखंड सेब फेडरेशन के अध्यक्ष जगत सिंह चौहान , उत्तराखंड रेशम फेडरेशन के अध्यक्ष चौधरी अजीत सिंह , उत्तराखंड लेबर फेडरेशन के अध्यक्ष जगत राम शर्मा , जिला सहकारी बैंक देहरादून के अध्यक्ष अमित चौहान , निबंधक सहकारिता बी.एम. मिश्रा , अपर निबंधक ईरा उप्रेती , उप निबंधक एम.पी. त्रिपाठी , मान सिंह सैनी , रामेंन्द्री मद्रवाल , नीरज बेलवाल , सहायक निबंधक राजेश चौहान , महाप्रबंधक जिला सहकारिता बैंक देहरादून वन्दना श्रीवास्तव , सहित कई विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे । कार्यक्रम की अध्यक्षता स्थानीय विधायक हरवंश कपूर व संचालन उप निबंधक एम.पी. त्रिपाठी ने किया । 




Post a Comment

Powered by Blogger.