Halloween party ideas 2015

 हरिद्वार:

 


 जल से लेकर नभ तक देश की सीमाओं की रक्षा करने वाले भारतीय सेनाओं के बहादुर सिपाहियों के सम्मान स्वरूप सशस्त्र सेना झंडा दिवस प्रतिवर्ष 07 दिसम्बर को मनाया जाता है। इस अवसर पर आज जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी हरिद्वार कमाण्डर ए0के0 चौधरी ने जिलाधिकारी हरिद्वार श्री सी0 रविशंकर को प्रतीक झंडी लगाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया।


जिलाधिकारी ने कहा कि उत्तराखण्ड वीर भूमि है, जिसे चार धाम के अतिरिक्त सैनिक धाम नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने जनपदवासियों से अपील करते हुए कहा कि इस अवसर पर लोगों को सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में दान देकर भारतीय सेनाओं के वीर सिपाहियों के शौर्य तथा पराक्रम का सम्मान करना चाहिए।


जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कमाण्डर ए0के0 चौधरी ने बताया कि सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष में एकत्र धनराशि का प्रयोग भारतीय सशस्त्र सेनाओं के शहीद सैनिकों के आश्रितों, युद्ध विकलांग सैनिकों तथा पूर्व सैनिकों के कल्याण हेतु चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के लिए किया जाता है। उन्होंने कहा कि जो लोग सशस्त्र सेना झंडा दिवस कोष के लिए दान एकत्र करना चाहते हैं वह जिला सैनिक कल्याण कार्यालय हरिद्वार से रसीद बुक प्राप्त कर अपने क्षेत्र से दान राशि एकत्र कर जमा करा सकते हैं तथा एनईएफटी/आरटीजीएस अथवा चेक के माध्यम से दान राशि सशस्त्र सेना झंडा दिवस फंड एकाउंट (संख्या 1333000100025392, आईएफसी कोड  PUNB0106400     पंजाब नेशनल बैंक, आर्य वानप्रस्थ आश्रम ब्रांच ज्वालापुर हरिद्वार) में भी दान कर सकते हैं। सेना झंडा दिवस कोष में दानकर्ता आयकर से छूट प्राप्त कर सकते हैं।

Post a Comment

Powered by Blogger.