Halloween party ideas 2015



मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के निर्देश पर कोविड-19 से संबंधित टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के लिए कुल 11.25 करोङ रूपए स्वीकृत किए गए हैं। इनमें  राजकीय मेडिकल कालेज हल्द्वानी, दून और श्रीनगर प्रत्येक के लिए 3.75 करोङ रूपए की मंजूरी दी गई है। इस राशि का उपयोग कोविड-19 की टेस्टिंग क्षमता में वृद्धि के  लिए आवश्यक मशीन और उपकरण क्रय करने हेतु किया जा सकेगा।

उत्तराखण्ड राज्य में कोविड-19 और डेंगू की रोकथाम हेतु सरकार को तकनीकी जानकारी प्रदान करने के लिए राजकीय दून मेडिकल काॅलेज के प्रो. देव्रत रॉय की अध्यक्षता में एक तकनीकी समिति का गठन किया गया है। इस समिति में सदस्य के रूप में राजकीय मेडिकल काॅलेज हल्द्वानी से डॉ. साधना अवस्थी, राजकीय मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा से डॉ. अमित सिंह, राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर से डाॅ. अजीत कुमार एवं स्टेट एस.एम.ओ., विश्व स्वास्थ्य संगठन, उत्तराखण्ड डाॅ. विकास शर्मा भी शामिल हैं।

समिति द्वारा देश एवं दुनिया में कोविड-19 हेतु अपनाई गई बेस्ट प्रेक्टिसेज का विश्लेषण किया जाएगा। इसके साथ ही यह समिति, इस सम्बन्ध में देश-दुनिया में प्रकाशित किए गए अध्ययनों का विश्लेषण कर कार्रवाई योग्य बिंदुओं पर अपने सुझाव राज्य सरकार को देगी। कोविड-19 हेतु बनाए गए स्टेट कंट्रोल रूम के मुख्य परिचालन अधिकारी द्वारा प्रत्येक शुक्रवार की शाम तक समिति के सदस्यों को सभी प्रकार का डाटा उपलब्ध कराया जाएगा। समिति इस सम्बन्ध में सम्बन्धित मुख्य चिकित्सा अधिकारी से भी डाटा प्राप्त कर सकती है।

Post a comment

Powered by Blogger.