Halloween party ideas 2015



उत्तराखंड में आज कोरोना पॉजिटिव के 259 मामले आए हैं।  जिसे मिलाकर उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के कुल मामले अब 6587 हो गए हैं। जिसमें सक्रिय केसों की संख्या 2759 है आज 45 लोग ठीक हो चुके है, रिकवर मामलों की संख्या 3720 है। अभी तक 70 लोगों मृत्यु हो चुकी है.
 आज 3845 लोगों के सैंपल रिपोर्ट  नेगेटिव पाए गए हैं।  उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के ठीक होने की दर घटकर 56.47% हो गयी है। उत्तराखंड कंटेनमेंट जोन बढ़कर 318 हो गए है। हरिद्वार  जनपद  में सबसे अधिक 273 कन्टेंटमेंट जोन हो गये है.

आज देहरादून जनपद से 33, अल्मोड़ा से 10, चमोली 02, टिहरी 13,  हरिद्वार से 42, नैनीताल से 45,  उधमसिंह नगर से 108, चम्पावत से 05 और टिहरी से 13 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। 96 लोग पूर्व में सक्रमित लोगों के सम्पर्कमें आने से संक्रमित हुए है जबकि126 लोगो की ट्रेवल हिस्ट्री नहीं पता है . 07 हेल्थ केयर वर्कर है.02 आर्मी के जवान है .बाकि प्रवासी उत्तराखण्ड है.



 एम्स संस्थान में विभिन्न गंभीर बीमारियों से ग्रसित हरिद्वार निवासी एक 80 वर्षीय कोविड पॉजिटिव मरीज की सोमवार रात मौत हो गई। इसके अलावा संस्थान में 10 लोगों की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव आई है। जिनमें 3 स्थानीय लोग भी शामिल हैं। संस्थान की ओर से इस बाबत स्टेट सर्विलांस ऑ​फिसर को सूचित कर दिया गया है।
एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल जी ने बताया कि मोहल्ला तिल्ला, मंगलौर हरिद्वार निवासी 80 वर्षीय पुरुष को बीती 16 जुलाई को एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था, जो कि हाईपरटेंशन, हृदय रोग व किडनी संबंधी गंभीर बीमारियों से ग्रसित था। संस्थान में भर्ती के बाद उनका कोविड सेंपल लिया गया,जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। सोमवार रात उपचार के दौरान इस मरीज की मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि इसके अलावा संस्थान में लिए गए कोविड सेंपल में 10 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। गली नंबर 9 गंगानगर निवासी 39 वर्षीय व्यक्ति जो कि बीते सोमवार को बीते चार दिनों से बुखार व खांसी की शिकायत के साथ एम्स की कोविड स्क्रीनिंग ओपीडी में आया था, जिसका सेंपल लिया गया था, इसके बाद से वह होम आइसोलेशन में था। उक्त व्यक्ति की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव पाई गई है।                                                                                                                                                      दूसरा मामला मानवेंद्र नगर वाल्मीकि बस्ती ऋषिकेश निवासी 57 वर्षीय व्यक्ति 27 जुलाई को चार दिनों से बुखार व कफ की शिकायत के साथ ओपीडी में आए थे, जहां इनका सेंपल लिया गया व होम आइसोलेशन में भेजा गया, उनकी रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव पाई गई है। इन्हीं का 38 वर्षीय पुत्र बीते सोमवार को कई दिनों से बुखार व खांसी की शिकायत के साथ ओपीडी में आया था,जो कि पॉजिटिव पाया गया है।                                                                                                                                                                                              इसके अलावा हरिद्वार निवासी 32 वर्षीय व्य​​क्ति जिसे मैक्सवैल हॉस्पिटल हरिद्वार से एम्स इमरजेंसी में रेफर किया गया था। उक्त व्यक्ति को बीते सोमवार को एक सप्ताह से बुखार, गले में दर्द व खांसी की शिकायत थी, जिसका यहां कोविड सेंपल लिया गया व उसे एम्स आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया। मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। हितामपुर रोशनाबाद, हरिद्वार निवासी 50 वर्षीय व्यक्ति जो कि एम्स में भर्ती अपनी 46 वर्षीया कोविड पॉजिटिव पत्नी का अटेंडेंट है, 27 जुलाई को एम्स ओपीडी में पहुंचे जहां उनका कोविड सेंपल लिया गया। एसिम्टमेटिक जिसमें रोग के कोई लक्षण नहीं पाए जाते है की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। गौरतलब है कि उक्त व्यक्ति की पत्नी उससे एक दिन पूर्व 26 जुलाई को एम्स में कोविड पॉजिटिव पाई गई थी जिसका यहां उपचार चल रहा है।                                                                                                             आईटीबीपी कैंप, सुनिल जोशीमठ चमोली गढ़वाल निवासी 53 वर्षीय व्यक्ति बीते शनिवार को किसी अन्य मेडिकल संस्थान से 10 दिन पहले से हाईग्रेड फीवर की रिपोर्ट के साथ एम्स इमरजेंसी में आया था, जो कि हाल ही में कठुवा, जम्मू एंड कश्मीर से जोशीमठ आया था।  साथ ही मरीज अर्थराइटिस आदि बीमारियों से भी ग्रसित है। इसकी कोविड सेंपल रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। उक्त पेशेंट को कोविड आईसीयू में भर्ती किया गया है। विकासनगर, देहरादून निवासी 19 वर्षीय युवक जो कि बीते सोमवार को राजकीय चिकित्सालय विकासनगर से रेपिड एंटीजन पॉजिटिव टेस्ट रिपोर्ट के साथ एम्स ऋषिकेश में आया था,जिसका एम्स में कोविड सेंपल लिया गया जो पॉजिटिव पाया गया है, इसके बाद उसे कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। गौरतलब है कि वह अपने कोविड संक्रमित पिता के प्राइमरी कांटेक्ट में आया था, जिनका एम्स ऋषिकेश के कोविड वार्ड में उपचार चल रहा है।                                                                                                     विकासनगर, देहरादून निवासी 39 वर्षीय व्य​क्ति जो कि बीती 27 जुलाई को राजकीय चिकित्सालय विकासनगर से रेपिड एंटीजन पॉजिटिव टेस्ट रिपोर्ट के साथ एम्स ऋषिकेश आया था। उक्त व्यक्ति का कोविड वार्ड में उपचार चल रहा है। बताया गया कि उक्त व्यक्ति विकासनगर निवासी एक अन्य कोविड संक्रमित व्यक्ति के प्राइमरी कांटेक्ट में आया था,जो कि एम्स में उपचाराधीन है। अंतिम मामला हरिद्वार का है। कनखल, हरिद्वार निवासी 29 वर्षीय व्यक्ति जो कि 27 जुलाई को एम्स ऋषिकेश ओपीडी में आया था, जहां उसका कोविड सेंपल लिया गया जो कि पॉजिटिव पाया गया है। उन्होंने बताया कि सभी कोविड पॉजिटिव मामलों के बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को अवगत करा दिया गया है।

Post a comment

Powered by Blogger.