Halloween party ideas 2015



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शाम 4 बजे राष्ट्र को संबोधित किया।  COVID 19 महामारी के प्रकोप के बाद से यह देश का प्रधानमंत्री का छठा संबोधन था। श्री मोदी ने पिछली बार 12 मई को राष्ट्र को संबोधित किया था जब उन्होंने कोरोनोवायरस-प्रेरित लॉकडाउन से उबरने वाली अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के वित्तीय पैकेज की घोषणा की थी। पिछले रविवार को अपने मन की बात संबोधन में, प्रधान मंत्री ने लोगों से आग्रह किया था कि वे अनलॉक चरण में अधिक सतर्क रहें और अधिक सावधानी बरतें।

आज भी पीएम मोदी ने कहा देश अनलॉक-2 में  प्रवेश कर रहा है  और साथ ही ऐसे मौसम में भी प्रवेश कर रहा है जब अनेक बीमारियां पैदा होती हैं ।मेरी आप सभी देशवासियों से प्रार्थना है कि ऐसे समय अपना ध्यान रखें।
 साथियों यह बात सही है,कोरोना से भारत में होनेवाली मृत्यु दर को अगर हम देखें तो यह दुनिया में हुए मामलों से कहीं अधिक कम है .कोरोना से भारत में होनेवाली मृत्यु दर को अगर हम देखें तो यह दुनिया में हुए मामलों से कहीं अधिक कम है .
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि समय पर किए गए लॉकडाउन व अन्य स्थितियों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है .लेकिन हम यह भी देख रहे हैं कि जब से देश में अनलॉक-1 हुआ है, व्यक्तिगत व सामाजिक व्यवहार में लापरवाही बढ़ती चली जा रही है .पहले हम मास्क, सामाजिक दूरी ,हाथ धोने को लेकर बहुत सतर्क थे, लेकिन आज जब हमें ज्यादा सतर्कता की जरूरत है तो लापरवाही बढ़ना बहुत ही चिंता का कारण है।
 अब स्थानीय निकायों की सस्थाओं को देश और देश के नागरिकों को उसी तरह की सतर्कता दिखने की जरूरत हैै।हमे कन्टेंटमेंट ज़ोन ध्यान देना होगा और जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे है उन्हें रोकना होगा समझाना होगा .
 130 करोड़ देशवासियों की रक्षा के लिए स्थानीय प्रशासन को ऐसे ही काम करना चाहिए जैसे एक देश के प्रधानमंत्री पर सार्वजनिक स्थान पर मास्क न पहनने पर जुर्माना लगाया गया .प्रधान हो या प्रधान मंत्री , भारत में भी नियमों से ऊपर कोई नहीं है.

श्री मोदी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान भारत में 80 करोड़ से अधिक लोगों को मुफ्त राशन दिया गया जो अमेरिका की कुल जनसंख्या से ढाई गुना अधिक है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है किप्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत नवंबर माह यानी अगले 5 माह तक देश के 80 करोड़ जनता को प्रतिमाह 5 किलो प्रति ब्यक्ति चावल या गेहूं और 1 किलो चना भी मुफ्त दिया जाएगा, इसमें 90 हजार करोड से भी ज्यादा खर्च होगा। इसके अलावा देश में वन नेशन, वन राशन कार्ड को लेकर भी राज्य सरकार काम कर रही है।
 पीएम ने आभार जताया कि इस योजना के सफल होने का श्रेय उन्होंने ईमानदार इनकम टैक्स पएर और कीअसानो को दिया . इनकी मेहनत के बिना ये संभव नहीं था .

लोकल के लिए, वोकल बनकर काम करने का उन्होंने संदेश दिया है .

Post a comment

Powered by Blogger.