Halloween party ideas 2015



उत्तराखंड में 37 कोरोनावायरस मामला आने से कुल कोरोना संक्रमण मामलो की संख्या 1692 हो गई है  अब सक्रिय मामलों की संख्या771 और रिकवर्ड मामलों की संख्या 895 हो गई है। जबकि 19 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। आज 9 लोग ठीक हुए हैं जबकि  1082 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के डबल होने की दर 17.28 दिन है। मरीजों के रिकवर होने के बाद 52.90 प्रतिशत है। हरिद्वार जनपद से 06 ,चमोली से 03, देहरादून से 15, रुद्रप्रयाग से 07, टिहरी गढ़वाल से और उधम सिंह नगर से 5 मामले सामने आए हैं।
देहरादून में कंटेंटमेंट  जोन बढ़कर  21 हो गए है। हरिद्वार में 29 कंटेंटमेंट जोन है।
2  मरीज की मृत्यु का कारण एम्स ऋषिकेश द्वारा इस प्रकार बताया गया।                                                                                                                                                                                                             अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में विभिन्न गंभीर रोगों से ग्रसित दो कोविड पॉजिटिव मरीजों की मृत्यु हो गई। जबकि मुंबई से ऋषिकेश आए एक अन्य मरीज की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव पाई गई है।                                                                                                                                  संस्थान के  नोडल अधिकारी कोविड मधुर उनियाल  ने बताया कि बीती बृहस्पतिवार की रात तपोवन, ऋषिकेश के कोविड संक्रमित 56 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हो गई,जो कि एम्स ऋषिकेश में 1 जून से भर्ती थे और कोविड संक्रमित थे। उन्होंने बताया कि यह व्यक्ति बीते माह 25 मई को मुंबई से तपोवन, ऋषिकेश स्थित अपने घर आए थे। 28 मई को सांस लेने में दिक्कत होने पर वह एम्स की ओपीडी में आए थे, इन्हें 1 जून को ऐक्यूट रेस्पिरेटरी डिस्ट्रेस् सिंड्रोम के चलते वेंटिलेटर पर रखा गया था तथा उसी दिन इनका कोविड सैंपल लिया गया था, जोकि इंकैंक्लुजिव पाया गया, लिहाजा इनका चार जून को दोबारा सैंपल लिया था, जो कोविड पॉजिटिव आया है। 6 जून को मरीज को कोविड आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। मगर चिकित्सकों की लाख कोशिशों के बावजूद उन्हें नहीं बचाया जा सका और बृहस्पतिवार रात उनकी मृत्यु हो गई।

दूसरा केस गाजियाबाद से 9 जून को एक 25 वर्षीया महिला पेट में दर्द व सांस लेने में तकलीफ की शिकायत लेकर एम्स की ओपीडी में आई थीं, जहां इनका कोविड सैंपल लिया गया था व इन्हें कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया। 11 जून को इनका सैंपल कोविड पॉजिटिव आने पर इन्हें कोविड वार्ड आईसीयू में शिफ्ट कर दिया गया था। चिकित्सकों के अनुसार इन्हें पिछले 10 दिनों से पेट में तेज दर्द, सांस लेने में तकलीफ के साथ ही पिछले तीन दिनों से तेज बुखार की शिकायत थी। इस महिला की शुक्रवार सुबह मृत्यु हो गई।

इसके अलावा एक अन्य स्थानीय व्यक्ति का सैंपल भी पॉजिटिव आया है।
 गुमानीवाला, ऋषिकेश निवासी 55 वर्षीय व्यक्ति जो कि बीती 9 जून को मुंबई से ऋषिकेश आए थे और उसी दिन से होम क्वॉरेंटाइन थे। उन्हें दूसरे राज्य से आने की वजह से 9 जून को ही कोविड सैंपल के लिए लाया गया। जिनकी रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई  है। इस बाबत संस्थान की ओर से स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को सूचित कर दिया गया है।

Post a comment

Powered by Blogger.