Halloween party ideas 2015


ऋषिकेश:

एम्स ऋषिकेश अब रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम अस्पताल, हरिद्वार के मरीजों को भी टेलिमेडिसिन सेवा के माध्यम से निःशुल्क परामर्श सुविधा प्रदान करेगा। इसके अलावा स्वास्थ्य के क्षेत्र में दोनों संस्थान मिलकर कार्य करते हुए सुपरस्पेशिलिटी मेडिकल कैम्पों का आयोजन भी करेंगे। इस संबंध में एम्स तथा रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम, कनखल के अधिकारियों द्वारा एमओयू गठित किया गया है। 


एम्स ऋषिकेश द्वारा उपलब्ध कराई जा रही टेलीमेडिसिन सेवा उचित इलाज हेतु आवश्यक परामर्श के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है। मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री प्रशासनिक अकादमी और कोटद्वार स्थित राज्य सरकार के राजकीय अस्पताल एम्स की टेलीमेडिसिन सेवा से सीधे तौर से जुड़े हैं। इसके अलावा समय-समय पर एम्स के आउटरीच सेल द्वारा आमजन के स्वास्थ्य सुविधार्थ विभिन्न स्थानों पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन भी किया जाता है। इस श्रृंखला को आगे बढ़ाते हुए अब एम्स ने कनखल हरिद्वार स्थित रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम अस्पताल में विभिन्न स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का निर्णय लिया है। इस मामले में एक सादे कार्यक्रम के तहत एम्स तथा रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम के अधिकारियों के मध्य एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। 


गठित किए गए एमओयू के अनुसार एम्स ऋषिकेश टेलिमेडिसिन सेवा के माध्यम से रामकृष्ण सेवाआश्रम के मरीजों को निःशुल्क स्वास्थ्य परामर्श देगा। इसके अलावा दोनों संस्थान आपसी सहयोग से मरीजों हेतु मेडिकल कैम्पों का संचालन कर क्लीनिकल रिसर्च के क्षेत्र में भी मिलकर कार्य करेंगे। संस्थान की कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर (डॉ.) मीनू सिंह ने इस बाबत बताया कि रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम अस्पताल कई दशकों से गरीब लोगों को अपनी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है। सेवाआश्रम प्रबंधन के अनुरोध पर एम्स ने साझा सहमति के तहत यह एमओयू गठित किया है। उन्होंने बताया कि माह में 1 या 2 बार अपने अनुभवी चिकित्सकों और हेल्थ केयर वर्करों के माध्यम से एम्स रामकृष्ण मिशन अस्पताल के साथ मिलकर सुपरस्पेशलिस्ट मेडिकल कैम्पों का आयोजन करेगा। ताकि गरीब और जरूरतमंद मरीजों को एम्स के अनुभवी चिकित्सकों के माध्यम से बेहतर स्वास्थ्य लाभ मिल सके। 


गौरतलब है कि एम्स ऋषिकेश अपनी स्वास्थ्य सेवाओं में लगातार इजाफा कर रहा है। संस्थान का प्रयास है कि समय-समय पर शिविरों के आयोजन के माध्यम से ऋषिकेश और आस-पास के क्षेत्रों को भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं से आच्छादित किया जाए। गठित एमओयू में यह भी तय किया गया कि रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम में सेवाएं दे रहे हेल्थकेयर वर्करों को एम्स द्वारा बेसिक और एडवांस मेडिकल ट्रेनिंग भी दी जाएगी। 


इस अवसर पर एम्स की ओर से डीन एकेडेमिक प्रो. जया चतुर्वेदी, चिकित्सा अधीक्षक प्रो. संजीव कुमार मित्तल और इस कार्यक्रम के समन्वयक डाॅ. विनोद कुमार के अलावा रामकृष्ण मिशन सेवाआश्रम कनखल हरिद्वार के चिकित्सा अधीक्षक स्वामी दयाधिपानन्द जी, सचिव स्वामी विश्वेश्वरानन्द जी और मुंबई स्थित रामकृष्ण मिशन हॉस्पिटल के चिकित्सा अधीक्षक स्वामी दयामुर्त्यानंद  सहित अन्य मौजूद रहे।

Post a Comment

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved
Powered by Blogger.