Halloween party ideas 2015

 भटवाड़ी/ उत्तरकाशी : 

Bhatwaadi uttarkashई protest against uksssc paper leak


"सयुंक्त संघर्ष समिति विकासखंड भटवाड़ी" के बैनर तले आज uksssc पेपर लीक भर्ती घोटाले एवं सहकारिता बिभाग, फॉरेस्ट गार्ड, शिक्षा विभाग, आयुर्वेद चिकित्सक,  स्वास्थ्य विभाग, सहित अन्य सभी भर्ती घोटालो पर राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित कर सीबीआई जांच करवाने की मांग की।


पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत तमाम क्षेत्रीय युवाओं ने भटवाड़ी बाजार मे उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग और सरकार का पुतला दहन किया, तत्पश्चात जुलुस के रूप मे विकासखंड परिसर पहुंचे जहाँ उन्होंने तहसील दिवस पर मौजूद उपजिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित किया एवं मांग की कि विगत समय उत्तराखंड में uksssc की परीक्षाओं में पेपर लीक करवा कर भारी धनराशि लेकर अभ्यर्थियों को नौकरी दिलवाई गई है। प्रथम दृष्टाया इस प्रकरण में 34 लोगों की गिरफ्तारियां हो चुकी है लेकिन अब जब बड़े स्तर पर कार्यवाही होनी है तो एसटीएफ द्वारा जारी कार्यवाही कहीं न कहीं प्रभावित होने की पुरी संभावना है साथ ही मामले के तार पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश से भी जुड़े होने के कारण निष्पक्ष जांच होना सम्भव नहीं है।

इसलिए उत्तराखंड राज्य की छवि को दृष्टिगत रखते हुए तथा बेरोजगारों को भरोसा दिलाने एवं कानून का राज स्थापित करने के लिए उक्त सभी प्रकरणों की जांच हाईकोर्ट की निगरानी मे सीबीआई से करवाई जाए, ताकि भ्रष्टाचार करने वालों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जा सके।


इसके अलावा भटवाड़ी तहसील मुख्यालय मे अधिकारियों एवं कर्मचारियों के न बैठने पर भी स्थानीय जनता मे खासा रोष दिखा, विकासखंड परिसर मे संचालित तहसील दिवस का विरोध कर स्थानीय लोगों ने तहसील दिवस को तहसील मे ही करवाए जाने की मांग की। काफी हंगामे के बाद उप जिलाधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी द्वारा भरोषा दिलाया गया कि अगला तहसील दिवस जन भावनाओ के दृष्टिगट तहसील परिसर मे ही करवाया जायेगा। इसके बाद प्रदर्शन कर रहे लोगों ने तहसील मुख्यालय की समस्याओं पर कहा कि  यदि एक माह के अंदर तहसील मुख्यालय से संचालित सभी विभाग यहीं से संचालित नहीं होते एवं व्याप्त समस्याओं का निराकरण नही किया गया तो क्षेत्रीय जनता द्वारा सयुंक्त संघर्ष समिति के बैनर तले बड़ा आंदोलन किया जायेगा।


ज्ञापन प्रेषित करने वालों में भटवाड़ी के पूर्व प्रधान राघवानंद शास्त्री, ज्येष्ठ उप प्रमुख मनोज रावत, ग्राम प्रधान  महेन्द्र पोखरियाल, संतोष नौटियाल, सुनील रावत, प्रताप प्रकाश पंवार, राजकेंद्र थनवान, विपिन राणा, सतेन्द्र पंवार आदि अनेक शामिल रहे।

Post a Comment

Powered by Blogger.