Halloween party ideas 2015

   ऋषिकेश  : 



. राजा जी पार्क की सीमा से सटे गांव पहले ही पार्क  के नियम कानून से परेशान है । वहीं अब ईको सेन्सिटिव जोन के दायरे को बढाकर गांव के विकास कार्य मे बाधा डालने की तैयारी है ।जहां  राजा जी पार्क सीमा से सटे गाव को  ईको सेन्सेटीव जोन घोषित करने  के खिलाफ श्यामपुर न्याय पंचायत  क्षेत्र के  ग्राम  सभा के प्रधानों ने एक आपात बैठक की है ।


रविवार को ग्राम पंचायत प्रतीतनगर   के पचायत भवन मे न्याय पंचायत श्यामुपर के  ग्राम पंचायतों के प्रधानों की आपात बैठक प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष सोबन सिंह कैंतुरा की अध्यक्षता में आयोजित हुयी । जिसमें राजाजी टाईगर रिजर्व पार्क से सटे ग्राम पंचायतों में पार्क के अन्तिम स्थान से गाँव में एक किमी अन्दर तक के क्षेत्र को ईको सेंन्सेटिव जोन में शामिल करने के आदेश का  पुरजोर विरोध किया गया। बैठक में इस बात पर गंभीर चिंता व्यक्त की गयी कि राजाजी से सटे गाँवों में एक किमी तक सेंन्सेटिव जोन हो गया तो ग्रामीणों के व्यक्तिगत निर्माण कार्य बन्द हो जायेंगे और पंचायत के विकास कार्य भी रुक जायेंगे। उत्तराखण्ड के आमजनों का वनों से पुराना नाता रहा है, यहाँ के लोग वनों से घास पत्ती व जलावनी लकड़ियों पर सदियों से निर्भर रहते आए हैं। अब अगर ईको सेंन्सेटिव जोन के नाम पर यहाँ के ग्रामीणों को वन अधिकारों से वंचित किया गया तो क्षेत्र के जानप्रतिनिधि ग्रामीणों को लामबंद कर आंदोलन करने को वाध्य होंगे।

बैठक में सर्व सहमति से उक्त क्षेत्र को ईको सेंन्सेटिव जोन के स्थान पर बफर जोन बनाने का प्रस्ताव पास किया गया। बैठक में प्रतीतनगर के ग्राम प्रधान अनिल कुमार ,गौहरीमाफी  प्रधान  रोहित नौटियाल, रायवाला प्रधान सागर गिरी, चकजोगीवाला ग्राम प्रधान   भगवान सिंह मेहर, खदरी खड़कमाफ़ ग्राम प्रधान  संगीता थपलियाल ,हरिपुरकला  ग्राम प्रधान गीतांजली जखमोला आदि मौजूद रहे ।

Post a Comment

Powered by Blogger.