Halloween party ideas 2015

 उत्तराखंड चारधाम यात्रा 2022 

प्रतिदिन दर्शनार्थियों की संख्या तय, कोरोना जांच आवश्यक नहीं

 देहरादून 1 मई:

 

chaardhaam yatra 2022 , Uttarakhand preparation and rules

उत्तराखंड  शासन द्वारा चार धाम हेतु कपाट खुलने / प्रथम यात्रा चरण  के प्रारंभिक 45 दिनों हेतु  प्रतिदिन दर्शन  के लिए  धर्मस्व सचिव हरिचंद्र सेमवाल द्वारा जारी  आदेश में तीर्थयात्रियों की संख्या तय की है।   चारधाम- श्री बदरीनाथ- केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि  श्री बदरीनाथ, श्री केदारनाथ, श्री गंगोत्री श्री यमुनोत्री में निम्न संख्यानुसार  श्रद्धालु प्रतिदिन दर्शन कर सकेंगे।

 यात्रियों को कोरोना जांच का प्रतिबंध नहीं है  कोरोना जांच ऐच्छिक है मास्क लगाना एवं सामाजिक दूरी का पालन  सबकी सुरक्षा हेतु आवश्यक है। 

 चारोधामों में यात्रा तैयारियां चल रही है श्री गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट अक्षय तृतीया 3 मई  तथा श्री केदारनाथ धाम के कपाट 6 मई श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 8 मई को दर्शनार्थ खुल रहे है। श्री हेमकुंड साहिब एवं लोकपाल तीर्थ के कपाट 22 मई  को खुल रहे है।

श्री केदारनाथ जी की पंचमुखी डोली 2 मई, श्री बदरीनाथ जी की देवडोलिया 6 मई, श्री गंगोत्री जी की डोली 2 मई, श्री यमुनोत्री जी की डोली 3 मई को शीतकालीन प्रयासों से धाम प्रस्थान हो जायेगी।

प्रतिदिन दर्शन हेतु श्रद्धालुओं की संख्या का विवरण के अनुसारश्री बदरीनाथ धाम -15000 (पंद्रह हजार) प्रतिदिन

श्री केदारनाथ धाम- 12000  (बारह हजार) प्रतिदिन श्री गंगोत्री - 7000( सात हजार) प्रतिदिन,श्री यमुनोत्री -4000 (चार हजार )प्रतिदिन रहेगी।



Post a Comment

Powered by Blogger.