Halloween party ideas 2015


ऋषिकेश :  



अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला के नेतृत्व में सरकार द्वारा नगर निगम ऋषिकेश के बजट में वृद्धि न करने के विरोध में शनिवार को  कांग्रेस जनो व पार्षदों ने नगर निगम में सांकेतिक धरना देकर मंत्री व मेयर के खिलाफ नारे बाजी करी।


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य जयेंद्र रमोला कहा कि आज दैनिक समाचार पत्रों में ऋषिकेश विधायक व नगरीय विकास व वित्त मंत्री प्रेमचन्द अग्रवाल के बयान से से स्पष्ट हो गया है । कि भाजपा शासित नगर निगम विकास कार्यों में फिसड्डी है । जहॉं पिछले पौने चार से भाजपा की मेयर व सर्वाधिक पार्षद वाले ऋषिकेश नगर निगम में क़ाबिज़ हैं । वहीं पिछले पंद्रह साल से अधिक ऋषिकेश विधानसभा में विधायक व विधानसभा अध्यक्ष भी भाजपा के यही मंत्री हैं जो अपने ही फिसड्डी होने का ढिंढोरा बडे गर्व के साथ मीडिया में बता रहे हैं। जबकि विधानसभा ऋषिकेश भी पिछले पंद्रह सालों से विकास कार्यों में अन्य विधानसभाओं से पिछड़ी हुई है ।कहीं ना कहीं नगर निगम मेयर और विधायक की आपसी खींचतान में ऋषिकेश नगर निगम पिछड़ गया ।जबकि विधानसभा तो पूर्व में पिछड़ी है। अब नगर निगम को बजट ना मिलने से ऋषिकेश के विकास पर ग्रहण लगाने का काम ये भाजपा के चुने हुऐ नेता कर रहे हैं ।

रमोला ने बताया कि भाजपा की कथनी और करनी में अंतर है। चुनाव में बड़े बड़े वादे करने वाले ये नेता व संगठन आज आपसी लड़ाई में ऋषिकेश नगर निगम सहित ऋषिकेश विधानसभा   बदहाली की ओर ले जा चुके हैं ।रमोला ने मेयर और मंत्री को सलाह देते हुए कहा कि अगर प्रतिस्पर्धा करनी है तो क्षेत्र के विकास कार्यों में प्रतिस्पर्धा करें। ताकि देवभूमि ऋषिकेश को संजीवनी मिल सके।  यहॉं की देवतुल्य जनता को सुविधायें प्रदान हो सके । नाकि एक दूसरे को नीचा दिखाने के लिये प्रतिस्पर्धा करें । जिसके कारण ऋषिकेश की पौराणिक क्षवि को क्षति पहुँच रही और जनता को परेशानी का सामना करना पढ़ रहा है।

रमोला ने कहा कि अगर शीघ्र ही बजट नहीं बढ़ाया गया । तो कांग्रेस संगठन आंदोलन रत होकर सड़को पर उतरने का काम करेंगे। 

पार्षद एडवोकेट राकेश सिंह ने कहा पंचम राज्य वित्त आयोग में जहां पूरे प्रदेश के निकायों को बढ़ा हुआ बजट मिला । वहीं ऋषिकेश को एक ढेला नहीं बढ़ाया गया, अगर इस बजट में हम छूट गए, तो 5 साल शहर विकास कार्यों में बुरी तरह पिछड़ जाएगा। 

इस पंचम राज्य वित्त में जहां हमें वहीं पुराना नगर पालिका वर्ष 17-18 के दौरान वाला बजट ही मिला, जबकि निगम विस्तार के दौरान ऋषिकेश ग्राम सभा, बीरपुर खुर्द ग्राम सभा, क्षेत्र बढ़ा है, तो ट्रिपल इंजन सरकार द्वारा बजट क्यों नहीं बढ़ाया गया 

क्या यह ऋषिकेश की जनता के साथ धोखा नहीं है 

जब अन्य निकायों को  30% से 300% तक अधिक बढ़ा हुआ बजट मिला, तो ऋषिकेश को एक ढेला क्यों नहीं, आखिर क्या गुनाह है जो अकेले ऋषिकेश निकाय को छोड़ दिया गया ? 

हमारा लगभग सवा वर्ष का कार्यकाल बचा हुआ है लेकिन जो  नया बोर्ड आएगा, वह अपने आगे का कार्यकाल कैसे चला पाएगा ? 

इसलिए सत्ता में बैठे लोगों अपनी लड़ाई में जनता का बुरा न करें और शीघ्र ऋषिकेश नगर निगम विकास हेतु 10 करोड़ का बजट जारी करो  यह हम समस्त कांग्रेसी पार्षद गणों एवं कॉंग्रेसजनों की मांग हैं l

पार्षद राधा रमोला ने कहा की विधायक द्वारा जो पार्षदों को फिसड्डी कहा गया है उस बयान की मैं घोर निंदा करती हूं और यह भी कहना चाहती हूं कि हम लोग अपने क्षेत्रों में अच्छा काम कर रहे हैं और जो भाजपा के पार्षद हैं, क्या वह भी फिसड्डी हैं ।

नगर अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने कहा कि जहां डोईवाला का बजट तीन सौ पर्सेंट से अधिक बढ़ाया गया क्या ऋषिकेश इस लायक नहीं था कि यहां का भी बजट बढ़ाया जाए और यहां के लोगों को भी विकास की आवश्यकता है यह घोर निंदनीय कार्य है ।

सांकेतिक धरने में प्रदेश सचिव मदन मोहन शर्मा, प्रदेश सचिव विजय पाल रावत, पार्षद देवेंद्र प्रजापति, पार्षद राधा  रमोला, पार्षद जगत नेगी पार्षद भगवान सिंह पंवार,पार्षद विजय लक्ष्मी शर्मा, पूर्व पार्षद मधु मिश्रा, प्यारे लाल जुगरान पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष सुमित त्यागी, विक्रम भंडारी, अरविंद जैन, प्रदीप जैन, मदन कुमार शर्मा, जयपाल सिंह, गौरव यादव, राम कुमार भातलिय, प्रवीण जाटव, मुकेश जाटव, अशोक शर्मा, बुरहान अली, राजकुमार मारवाह  मौजूद रहे

Post a Comment

Powered by Blogger.