Halloween party ideas 2015


देहरादून :

 

 हरिद्वार जिले में हनुमान जयंती के मौके पर हुए पथराव और तनाव के हालात के बीच कांग्रेस के राजभवन कूच पर भाजपा ने इसे राजनीति से प्रेरित बताया है। 

प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि ऐसे मौके पर राजनीति के बजाय संयम और सौहार्द स्थापित करने में विपक्ष को भी आगे आने की जरुरत है। श्री चौहान ने कहा कि हरिद्वार मे हुए घटनाक्रम के बाद प्रशासन और पुलिस शांति स्थापित करने के प्रयास में जुटी है। 

क़ानून अपना कार्य कर रहा है और अराजकता फैलाने वालो पर क़ानून का शिकंजा कसने के लिए प्रशासन जुटा हुआ है। लेकिन कांग्रेस की हमेशा आदत रही है कि वह हर ऐसी  घटना को राजनैतिक चश्मे से देखती रही है। एक पक्षीय नजरिये से देखने के बजाय कांग्रेस को वस्तुस्थिति पर ध्यान देने की जरुरत है। 

अवसर का लाभ उठाने की फिराक में रही कांग्रेस इसे भी अपने लाभ के तराजू में तोलने की फिराक में है। अराजक तत्व जल्द ही क़ानून के शिकंजे में होंगे और इसमें किसी तरह का भेदभाव नहीं किया जाना चाहिए। कांग्रेस के इसी भेदभावपूर्ण रवैए और नकारात्मक सोच ने उसे जनता से दूर कर दिया है।

 

उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस के 11 सदस्यीय प्रतिनिधिमण्डल ने प्रदेश प्रभारी श्री देवेन्द्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष श्री करन माहरा, पूर्व मुख्यमंत्री श्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष श्री यशपाल आर्य के संयुक्त नेतृत्व में उत्तराखण्ड प्रदेश के महामहिम राज्यपाल से राजभवन में मुलाकात कर राज्य में बिगडती कानून व्यवस्था पर चिंता प्रकट करते हुए उन्हें ज्ञापन प्रेषित किया।  

 प्रदेश कंाग्रेस महासचिव संगठन एवं वरिष्ठ प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने बताया कि महामहिम राज्यपाल को सौंपे एक ज्ञापन में कंाग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने राज्य की बिगड़ती हुई कानून व्यवस्था, महिलाओं व नाबालिग बच्चियों के विरूद्ध हो रही हिंसा, बलात्कार व जघन्य हत्याओं की घटनाओं को लेकर चिंता प्रकट करते हुए हस्तक्षेप का आग्रह किया।  

कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने  कहा कि दिनांक 16 अप्रैल, 2022 को हरिद्वार जनपद के भगवानपुर विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत डांडा जलालपुर में धार्मिक आयोजन के शुभ अवसर पर पथराव की घटना ने राज्य में कानून व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है। राज्य में सत्ताधारी दल से जुडे संगठनों के कार्यकर्ताओं द्वारा राज्य की कानून व्यवस्था को धता बताते हुए राज्य में भय का माहौल बनाया जा रहा है। प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की लापरवाही के कारण घटित घटना से लोगों में भय का माहौल व्याप्त है। धार्मिक आयोजन की शोभा यात्रा के अवसर पर स्थानीय प्रशासन द्वारा न तो कोई समय निर्धारित किया गया था और न ही रूट तय किया गया था। साथ ही शोभा यात्रा के दौरान किसी प्रकार की सुरक्षा के भी इंतजामात नहीं किये गये थे। घटना के उपरान्त घायलों को चिकित्सालय ले जाने वाली एम्बुलेंस की सुरक्षा बलों द्वारा चाबी निकाल कर 4 घंटे तक एम्बुलेंस रोक दी गई जिससे घायलों को चिकित्सालय पहुंचाने में कठिनाई हुई। उन्होंने यह भी कहा कि स्थानीय प्रशासन द्वारा घटना की छानबीन में भी एकतरफा कार्रवाई की गई जिसकी निष्पक्ष जांच कराते हुए अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए। साथ ही भविष्य में यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि धार्मिक आयोजनों के अवसर पर अनुमति प्रदान करते समय इस बात का आवश्यक रूप से ध्यान रखा जाना चाहिए कि पुलिस प्रशासन मुस्तैदी के साथ अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करे जिससे ऐसी घटनाओं की पुनर्रावृत्ति न हो।  

 
कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल ने महामहिम राज्यपाल से आग्रह करते हुए कहा कि राज्य में संवैधानिक संरक्षक होने के नाते कंाग्रेस पार्टी आपसे आग्रह करती है कि उपरोक्त आपराधिक घटनाओं पर शीघ्र निष्पक्ष कानूनी कार्रवाई किये जाने हेतु राज्य सरकार को निर्देशित करने की कृपा करें।  
कांग्रेस प्रतिनिधिमण्डल में प्रदेश प्रभारी श्री देवेन्द्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष श्री करन माहरा, पूर्व मुख्यमंत्री श्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष श्री यशपाल आर्य, उपनेता प्रतिपक्ष श्री भुवन कापडी, विधायक श्रीमती ममता राकेश, श्री फुरकान अहमद, श्री आदेश चैहान, श्री गोपाल राणा, श्री मनोज तिवारी, श्री सुमित हृदयेश, श्री विरेन्द्र कुमार जाति, श्रीमती अनुपमा रावत, श्री रवि बहादुर एवं प्रदेश उपाध्यक्ष श्री जोत सिंह बिष्ट शामिल थे। 


Post a Comment

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved
Powered by Blogger.