Halloween party ideas 2015

राज्य के कई जिलों में भारी बारिश व बर्फबारी का अलर्ट- राज्य आपदा प्रतिवादन बल (SDRF) उत्तराखण्ड पुलिस अलर्ट






मौसम विभाग द्वारा दिनाँक 03 व 04 फरवरी को राज्य के कुमाऊँ परिक्षेत्र के जनपदों में कुछ स्थानों में भारी से बहुत भारी वर्षा /बर्फबारी (2500 मीटर से ऊंचाई वाले स्थान) के साथ नैनीताल, चंपावत एवं उधमसिंहनगर जनपदों में भारी से बहुत भारी वर्षा, गर्जन के साथ ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली चमकना तथा गढ़वाल परिक्षेत्र के देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी में भारी वर्षा, गर्जन के साथ ओलावृष्टि, आकाशीय बिजली चमकना व 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले स्थानों में बर्फबारी होने का अलर्ट जारी किया गया है। 


उक्त चेतावनी के दृष्टिगत  पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड, श्री अशोक कुमार के दिशानिर्देशन में सेनानायक SDRF, श्री मणिकांत मिश्रा द्वारा SDRF टीमो को निर्देशित किया गया कि सभी अपने-अपने क्षेत्रों में सतर्क दृष्टि रखें, नदी किनारे बसे गांवों/कस्बों को पी0ए0 सिस्टम द्वारा अवगत कराया जाए ताकि किसी भी जान-माल का खतरा उत्पन्न न हो तथा किसी भी आपात परिस्थिति के लिए पूर्णतः अलर्ट रहे व रेस्क्यू उपकरणों को भी कार्यशील दशा में रखें। 


राज्य में SDRF की 22 टीमो का व्यवस्थापन निम्न है- 


 *देहरादून* - सहस्त्रधारा, चकराता।


 *टिहरी-* ढालवाला (ऋषिकेश), कोटि कॉलोनी, ब्यासी(कौड़ियाला)


 *उत्तरकाशी* - उजेली, भटवाड़ी, बड़कोट।


 *पौड़ी गढ़वाल* - श्रीनगर, कोटद्वार, सतपुली।


 *चमोली-* गौचर, जोशीमठ। 


 *रुद्रप्रयाग-* रतूड़ा, सोनप्रयाग।


 *पिथौरागढ़* - पिथौरागढ़, अस्कोट। 


 *बागेश्वर-* कपकोट। 


 *नैनीताल-* नैनी झील, खैरना।

 

 *अल्मोड़ा-* सरियापानी।


 ऊधमसिंहनगर- रुद्रपुर। 


सेनानायक SDRF द्वारा SDRF कंट्रोल रूम को भी अलर्ट पर रखा गया है व निर्देशित किया है कि सूचनाओं का आदान प्रदान तत्काल किया जाए जिससे किसी भी घटनास्थल पर समय से पहुँच कर रेस्क्यू कार्य सुचारू किया जा सके।

विभिन्न जनपदों में भारी वर्षा व बर्फबारी, अनेक स्थानों पर फंसे लोगों को SDRF उत्तराखण्ड पुलिस ने किया सुरक्षित। 


मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट के पश्चात SDRF टीमें अलर्ट अवस्था में रही। राज्य के विभिन्न जनपदों में हो रही भारी वर्षा व बर्फबारी में कई लोगों के फंसे होने की सूचना SDRF को प्राप्त हुई। SDRF उत्तराखंड पुलिस की टीमो द्वारा विभिन्न स्थानों पर बर्फबारी से अवरुद्ध हुए मार्गो में से वाहनों को धक्का मारकर निकाला साथ ही फंसे हुए लोगो को भी सुरक्षित निकाला। SDRF द्वारा किये गए रेस्क्यू ऑपरेशन के विवरण निम्न प्रकार है-


1. चमोली जनपद के दीवालीखाल में बर्फबारी में फंसे 06 लोगों को SDRF की रेस्क्यू टीम द्वारा सुरक्षित खेती गांव पहुँचाया गया, जिसके पश्चात नायब तहसीलदार, कर्णप्रयाग के सुपर्द कर दिया गया। 


2. थाना बड़कोट क्षेत्रान्तर्गत राड़ी टॉप में एक वाहन के बर्फ में फंसे होने की सूचना पर तत्काल घटनास्थल हेतु रवाना हुई। उक्त वाहन में 02 लोग सवार थे, जिन्हें SDRF टीम द्वारा सुरक्षित बड़कोट पहुँचाया गया। 


3. थाना सोनप्रयाग द्वारा अवगत कराया गया कि त्रिजुगी नारायण मंदिर से 3 किलोमीटर नीचे कुछ लोग बर्फ में फंसे हैं, जिस पर SDRF टीम द्वारा तत्काल मौके पर पहुँचकर वहां फंसे 02 लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया। 


4. अल्मोड़ा जनपद के मच खाली नामक जगह में कुछ लोगो के फंसे होने की सूचना SDRF को प्राप्त हुई जिस पर SDRF रेस्क्यू टीम द्वारा मौके पर पहुँचकर रेस्क्यू किया जा रहा है।


5. कोतवाली जोशीमठ से सेलंग के पास कुछ वाहन बर्फ में फंसे होने की सूचना पर SDRF टीम द्वारा मौके पर पहुँचकर वहाँ फंसे हुए वाहनों को धक्का मारकर पार कराया। 


6. नैनीताल में बर्फबारी के कारण वाहनों के फंसे होने की सूचना पर SDRF टीम द्वारा धक्का मारकर वाहनों को पार कराया गया।



Post a Comment

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved
Powered by Blogger.