Halloween party ideas 2015


मिशन 2022 में विकास की और ऊंची भरेंगे उड़ान-अनिता ममगाई

ग्रीन बेल्ट के साथ विकसित कर खुशबूदार पौधों से महकायेंगे ट्रेचिंग ग्राउंड-मेयर


ऋषिकेश:



ट्रेचिंग ग्राऊंड के मामले में 'कोशिश करने वालों की कभी हार नही होती' पंक्ति को चरितार्थ कर दिखाने वाली नगर निगम महापौर अनिता ममगाई ने नूतन वर्ष पर कूड़े के पहाड़ के समक्ष पत्रकार वार्ता कर अपनी राजनैतिक जीवटता को एक बार फिर से साबित कर दिखाया।इस अवसर पर उन्होंने ट्रेंचिंग ग्राउंड को खुशबू दार पौधों से महकाने की योजना का भी शुभारंभ किया।महापौर ने बताया कि ट्रेचिंग ग्राउंड को पूरी तरह से ग्रीन बेल्ट के रूप में विकसित किया जाना है।इसकी समस्त देखरेख फोरेस्ट विभाग करेगा। महापौर ने बताया कि विकास की दृष्टि से ऋषिकेश तेजी से आगे बढ़ रहे है।शहर में अब सफाई व्यवस्था को और बेहतर करने के लिए रोड स्वीपिंग मशीन को भी उतारा जाएगा जो कि रात को निगम के तमाम क्षेत्रों के अलावा शहर के सभी महत्वपूर्ण मार्गों पर चलेगी। रोडं स्वीपिंग मशीन की खूबियों के बारे में उन्हें बताया कि इसमें वैक्यूम, झाड़ू एवं पौचे का उपयोग बेहद हाईटेक तकनीक के साथ किया जा सकेगा।महापौर ने बताया केन्द्र सरकार से ट्रेचिंग ग्राउंड की स्वीकृति के बाद महामहिम राज्यपाल द्वारा इस संदर्भ में आदेश की कापी मिलने के बाद निगम प्रशासन का पूरा फोकस इसी पर है कि अगले तीन माह के भीतर शहरवासियों के लिए पिछले तीन दशक से कोढ़ का खाज बन चुके कूड़े के पहाड़ से हमेशा के लिए मुक्ति दिला दी जाये।इस दौरान उन्होंने अपने तीन वर्ष की उपलब्धियों को भी पत्रकारों के समक्ष रखा।



मिशन 2022 में  निगम की तमाम विकास योजनाओं को धरातल पर उतारने के संकल्प लिए महापौर आज निगम के विभिन्न क्षेत्रों के पार्षदों के साथ ट्रेचिंग ग्राउंड पर पत्रकारों से मुखातिब हुई।यहां पत्रकार वार्ता करने के संदर्भ में महापौर ने बताया कि ट्रेचिंग ग्राउंड पिछले तीन दशक से शहर की सबसे बड़ी समस्या बना हुआ था जिसे शिफ्ट कराना एक बड़ा चेलेंज था।निगम प्रशासन की पूरी टीम ने शिद्दत के साथ इसपर कार्य किया ।आज नतीजा सबके सामने है ।चंद माह में कूड़े के पहाड़ की जगह खूबसूरत समतल मैदान दिखेगा।महापौर ने पत्रकार वार्ता के दौरान जानकारी दी कि निगम की कमान संभालने से पूर्व उन्होंने शहर के सर्वांगीण विकास के लिए जो योजनाएं तैयार कर चुनावी घोषणा की थी उसे सिलसिलेवार प्राथमिकता के साथ धरातल पर उतारा गया।हालांकि चुनौतियां अभी भी कम नही हुई हैं।

 अगले 2 वर्ष में पार्किंग, संजय झील का निर्माण ,बैराज जलाशय में वाटर स्पोर्ट्स शुरू कराने के साथ  त्रिवेणी घाट में गंगा की धारा को प्रमुख घाट तक लाने के कार्य को दिशा दिखानी है।निगम की महत्वपूर्ण उपलब्धियों के बाबत उन्होंने बताया उत्तर भारत का सबसे बड़ा वेडिंग जोन, चौराहों का सौंदर्यीकरण,  स्ट्रीट लाइट व्यवस्था, भवन कर में 50 प्रतिशत की छूट, 50,000 डस्टबिन वितरण और मेयर हेल्पलाइन के जरिये समस्याओं का त्वरित निस्तारण इनमें प्रमुख है। नगर में पुलिस प्रशासन को सहयोग के लिए हाईटेक तकनीक से लैस 69 सी सी टी वी केमरे भी लगवाये गये ताकि अपराधिक गतिविधियों पर नकैल कसने में पुलिस को मदद मिल सके।उपलबिधयों के पिटारे में हाइटेक शौचालय के निर्माण एवं त्रिवेणी घाट में नमामि गंगे के सहयोग से गंगा अवलोकन केन्द्र भी शामिल रहा। स्वच्छता सर्वेक्षण में देश में 53 वां स्थान एवं उत्तराखंड में आबादी के आधार पर प्रथम स्थान हासिल बड़ी उपलब्धि रही।इस दौरान महापौर ने तमाम शहरवासियों को नूतन वर्ष की शुभकामनाएं भी दी।

Post a Comment

Powered by Blogger.