Halloween party ideas 2015

 राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के अवसर पर बीएचईएल-ईएमबी-विद्या मंदिर सेक्टर 5 बी के पूर्व छात्र-छात्राओं द्वारा आयोजित किया गया "शिक्षक-विद्यार्थी उत्सव 2021"*


 शिक्षा के माध्यम से देश के लिए उत्कृष्ट नागरिक बनाने के लिए सुप्रसिद्ध बी. एच.ई. एल. संस्थान अधीनस्थ ईएमबी  द्वारा संचालित विद्या मंदिर की शैक्षिक पद्वति जन प्रसिद्ध है। विद्या मंदिर से 0-5 से शिक्षा लेकर विभिन्न क्षेत्रों में देश की और समाज की सेवा कर रहे हैं। छात्र-छात्राओं ने परस्पर संवाद कर अपने भविष्य निर्माता अध्यापक-अध्यापिकाओं के साथ 2019 के समारोह के बाद फिर एक बार शिक्षक-उत्सव 2021 करने की योजना बनाई और शिवालिक नगर स्थित एक होटल में भव्य कार्यक्रम आयोजित कर अपने टीचर्स और विशिष्ट अतिथियों को अपनी भावनायें समर्पित की।





विद्यार्थियों ने , तिलक लगाकर तथा पुष्प गुच्छ देकर सर्व श्री एन के पुंडीर, डॉ नरेश मोहन, अशोक गौतम, पी के डोभाल, जॉर्ज, शशि भूषण पांडेय, डॉ ऐ बी जोशी, पी के शर्मा, श्रीमती शारदा गुप्ता, नीना गुप्ता,  रेणुका श्रीवास्तव, मधु मित्तल, शशि खन्ना, नीरू खन्ना, भागीरथी पंत, कुशल शर्मा, सुषमा वर्मा, माधुरी मिश्रा, सरस्वती पुंडीर तथा श्रीमती बीना गुप्ता को उपहार देकर सम्मानित किया गया। अपने प्रति बच्चों के स्नेह-आदर तथा श्रद्धा भाव से अभिभूत टीचर्स ने कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए बच्चों को उज्ज्वल भविष्य हेतु आशीर्वाद दिया तथा मंत्रमुग्ध करते अपने शुभाशीष से कार्यक्रम को भव्यता प्रदान की। श्री पी. शर्मा ने हास्य कविता सुनाकर सबको ठहाके लगाने पर मजबूर कर दिया।


कार्यक्रम की विशेषता यह रही है कि कई विद्यार्थी 30-35 वर्षों के बाद आपस में मिले। इस ख़ुशी को छात्र-छात्राओं ने नृत्य, गीत, नाटिका के माध्यम से प्रस्तुत कर माहौल को ख़ुशनुमा बना दिया। पूर्व विद्यार्थी दीपक भारद्वाज (अध्यक्ष), पूनम पांडेय (सचिवा) और संदीप खन्ना (संयोजक) के संचालन में देर रात तक इस शिक्षक सम्मान समारोह में देहरादून, हरिद्वार, ग्वालियर, लखनऊ, दिल्ली, नोएडा, मुज्जफरनगर, रुड़की, ऋषिकेश से लगभग 100 छात्र-छात्रायें कार्यक्रम में शामिल हुए। वहीं केरल,  लखनऊ, दिल्ली, मुज्जफरनगर, देहरादून तथा फरीदाबाद से भी अध्यापक-अध्यापिकाएँ पधारे। विशिष्ट अतिथियों में सीपीयू से ट्रैफिक इंस्पेक्टर श्री अखिलेश कुमार, सब इंस्पेक्टर श्री दिनेश सिंह पँवार एवं सब इंस्पेक्टर श्री सोहन लाल जोशी, प्लान इंडिया के श्री राम कुमार, मुख्य उद्यान अधिकारी श्री नरेन्द्र यादव, चिकित्सा विभाग से डॉ कोमल एवं डॉ नलिंद साथ में डॉक्टर्स फ़ॉर यू संस्था से डॉ दीपा व डॉ अमरकांत, नई उड़ान से विनीता गोनियाल इस भव्य आयोजन के साक्षी बने। सीपीयू प्रभारी श्री दिनेश सिंह पँवार द्वारा सुरीले बाँसुरी वादन ने सभागार में उपस्थित सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। विनीता गोनियाल, सरिता शर्मा एवं मीनाक्षी सक्सेना द्वारा बनाई गई मनमोहक रंगोली की सबने प्रशंसा की। पूर्व छात्रा जिनेश रोहिला द्वारा  सरस्वती वंदना एवं एक अन्य गीत पर नृत्य कर ढेरों तालियाँ बटोरीं। प्लान इंडिया से श्री राम कुमार ने विद्यार्थियों और शिक्षकों से समूह के बारे में बताया और पिछले 02 साल में कोरोना काल और लॉक डाऊन में किये गए पूर्व छात्र-छात्राओं और पूर्व अध्यापक-अध्यापिकाओं के इस समूह द्वारा जनमानस की निरंतर जारी सेवा पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि ये अकेला ऐसा शिक्षक-विद्यार्थियों का समूह है जो समाज सेवा के प्रति समर्पित है। सर्व श्री एन के पुंडीर, ऐ बी जोशी, पी के शर्मा, पी के डोभाल एवं श्रीमती नीना गुप्ता द्वारा विद्यार्थियों के इस निरंतरता लिए उत्सव की भूरि भूरि प्रशंसा की एवं इसे आगे भी जारी रखने की उम्मीद जताई। श्रीमती नीरू खन्ना द्वारा इस भव्य आयोजन को स्टार्टअप की संज्ञा दी गई, जो नई पीढ़ी के लिए एक मिसाल कायम करता है।


कार्यक्रम उस समय भावुक हो गया जब विद्या मंदिर की पूर्व शिक्षिका स्व श्रीमती चित्रा एण्डले व स्व श्री शिव कुमार शर्मा के आकस्मिक निधन पर उनको याद किया गया। विद्यार्थियों के अनुरोध पर अध्यापक-अध्यापिकाओं ने भी गीत, कविता, गज़ल प्रस्तुत कीं। इस कार्यक्रम को निरन्तर प्रति वर्ष करने की संकल्पना तथा परस्पर जुड़े रहने की वचनबद्धता दोहरायी गयी। कार्यक्रम में टीचर्स तथा बच्चों के परिजन और कुछ विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे। स्वच्छ भारत, जल संरक्षण तथा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की शपथ लेकर राष्ट्र गान के साथ कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।


 समापन के क्रम में, छात्र-छात्राओं ने अपने दिवंगत टीचर्स को श्रद्धांजलि भी दी। कार्यक्रम सफल बनाने में, संचालक मंडल के साथ ही नवीन गोयल, दीपाली गोयल, प्रतीक पाराशर, चेतना सिंह, संदीप धीमान, संजीव शर्मा, सुमन रावत, अखिल रंजन, शीतल शर्मा, मनोज ओली, सुनीता दीपक, रजनी चौधरी, रितिशा डोभाल रतूड़ी, चंदा, रितिन चन्दोला, पुनीत गुप्ता, शिवानी गौड़, विनीता गोनियाल, सरिता शर्मा, मुक्ति खन्ना, विनायक गौड़, मीनाक्षी सक्सेना, दीपक शर्मा, अनिल रावत आदि की महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है।


Post a Comment

Powered by Blogger.