Halloween party ideas 2015


 एस. डी. आर. एफ के 11 जवानों द्वारा गंगोत्री -I(21889 फिट) को सुबह 8:15 बजे सफलतापूर्वक समिट कर लिया गया है।

09 सितम्बर 2021 को मुख्यमंत्री उत्तराखंड, श्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा SDRF गंगोत्री - I पर्वतारोहण अभियान 2021 का फ्लैग ऑफ किया गया था। 17 सदस्यीय SDRF की यह टीम लगातार पीक समिट हेतु आरोहण कर रही थी।

पर्वतारोहण मात्र एक अभियान नहीं, बल्कि यह प्राणपोषक, पुरस्कृत और जीवन बदलने वाला अनुभव हो सकता है। यह आम बात नहीं है अपितु इसके लिए अदम्य साहस और कुछ कर गुजरने का जुनून अनिवार्य है। इस रोमांचित सफर में दृढ़ता व धैर्य दोनों आवश्यक है। 

उच्च ऊँचाई पर असहनीय ठंड, ऑक्सीजन की कमी, हिमस्खलन का खतरा जैसी कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। जिससे पार पाने के लिये शारिरिक और मानसिक दृढ़ता जरूरी है।इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए इस 17 सदस्यीय टीम का चयन भी किया गया था।

 गंगोत्री-I को समिट करने हेतु टीम को लगातार तीन दिवस तक खराब मौसम व बर्फबारी के कारण समिट कैम्प में ही इंतज़ार करना पड़ा। 29 सितम्बर 2021 को 0030 बजे मौसम थोड़ा ठीक होते ही टीम ने समिट हेतु समिट कैम्प से  आरोहण शुरू किया व सुबह 0815 पर गंगोत्री-I को सकुशल फतह कर उत्तराखंड पुलिस का झंडा फहराया गया।

एस. डी. आर. एफ द्वारा इस अभियान के माध्यम से एक नया कीर्तिमान रचा गया है। यह उत्तराखंड पुलिस के इतिहास में पहली बार है कि पर्वतारोहण के ऐसे जोखिमभरे अभियान की कमान एक महिला ,इंस्पेक्टर सुश्री अनिता गैरोला द्वारा सम्भाली गयी।

इसके अतिरिक्त 11 सदस्यीय,SDRF की जिस  पर्वतारोहण टीम ने गंगोत्री-I को समिट किया , उनमे महिला आरक्षी सुश्री प्रीति मल्ल भी शामिल रही, जिन्होंने किसी भी पीक को समिट करने वाली प्रथम महिला कर्मी होने का गौरव हासिल किया है। 

उत्तराखण्ड पुलिस का महिला सशक्तीकरण का अनूठा उदाहरण देता एस. डी.आर. एफ का यह अभियान निश्चित रूप में प्रदेश की सभी नारी शक्ति में साहस एवं नई ऊर्जा का संचार करेगा।


इस गौरवान्वित करने वाले पल में पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड श्री अशोक कुमार, पुलिस महानिरीक्षक, SDRF श्री पुष्पक ज्योति, पुलिस उपमहानिरीक्षक SDRF श्रीमती रिधिम अग्रवाल, सेनानायक SDRF श्री नवनीत सिंह सहित उच्चाधिकारियों द्वारा टीम को हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की गई है।

Post a Comment

Powered by Blogger.