Halloween party ideas 2015


गोपेश्वर:


पर्वतीय जनपदों में पौड़ी गढ़वाल जिले के श्रीनगर शहर के उपरांत अब चमोली जिला अस्पताल गोपेश्वर में एबीजी मशीन (आर्टिरीअल ब्लड गैस एनालाइसिस) की सुविधा भी उपलब्ध हो गई है।

एबीजी मशीन आने से ब्लड में कार्बन डायआक्साइड, आक्सीजन, बाइकार्बोनेट आयन, पीएच लेवल की सटीक जांच हो सकेगी। इसके अलावा रक्त का मिनरल टेस्ट भी होगा। पर्वतीय जिलों में पहले यह सुविधा केवल श्रीनगर बेस अस्पताल में ही उपलब्ध थी।

चमोली जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने चिकित्सा अधिकारियों के साथ जिला अस्पताल में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का स्थलीय निरीक्षण कर अस्पताल परिसर में आइसोलेशन वार्ड के लिए जगह का चयन भी किया।

नए आइसोलेशन वार्ड बनने से मौजूदा स्वास्थ्य सुविधाओं में बढ़ोत्तरी होगी। कोविड-19 की तीसरी लहर की संभावना को लेकर बच्चों के स्वास्थ्य और उनके इलाज की व्यवस्था के लिए जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर के प्रथम तल में बच्चों के लिए तैयार किए गए एसएनसीयू वार्ड का निरीक्षण भी किया। 

अस्पताल में स्पेशल न्यूबॉ जिला अस्पताल गोपेश्वर में केन्द्र सरकार की ओर से जल्द ही 500 एलपीएम क्षमता का नया आक्सीजन जनरेशन प्लांट भी लगाया जाएगा। नए आक्सीजन प्लांट की स्थापना कार्यो को लेकर भी अस्पताल परिसर में भूमि चयनित की गई

इस प्लांट के लगने एवं हाल ही में स्थापित 200 एलपीएम आक्सीजन प्लांट की क्षमता को मिलाने के बाद जिला अस्पताल में आक्सीजन जनरेशन क्षमता 700 एलपीएम हो जाएगी।

जिला अधिकारी स्वाति भदौरिया ने कहा की कोविड-१९ की तीसरी सम्भावित लहर के मद्देनजर चमोली जिले में समुचित प्रयास किये जा रहे है

Post a Comment

Powered by Blogger.