Halloween party ideas 2015

 देहरादून :

  जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने निर्देश दिए कि जो चिकित्सालय डेथ आॅडिट में सहयोग नहीं दे रहें है तथा अपने चिकित्सालय में कोविड के दौरान हुई मृत्यु का विवरण उपलब्ध नही करा रहे हैं, ऐसे सभी चिकित्सालयों को 2 दिन के भीतर एन.सी.डी.सी फार्म पर विवरण उपलब्ध कराने हेतु नोटिस प्रेषित करने तथा विवरण प्रस्तुत करने अथवा डेथ आॅडिट में सहयोग ना करने वाले चिकित्सालयों पर क्लीनिक इस्टबलिसमेंट एक्ट एवं आपदा प्रबन्धन अधिनियम में वर्णित प्राविधानों को अनुरूप कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि जनपद में निर्धारित लक्ष्य से कम सैम्पलिंग ना हो, इसके लिए सभी चिकित्सा अधीक्षक एवं एमओआईसी अपने क्षेत्रों में योजना बनाकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि सैम्पलिंग का लक्ष्य पूरा करने हेतुे चिकित्सा अधीक्षक एवं एमओआईसी आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।  

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद की सीमा चैक पोस्ट पर अन्य राज्यों एवं जनपदों से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की अनिवार्यतः सैम्पल लिया जाए। उन्होंने पुलिस का सहयोग लेते हुए इसके लिए व्यवस्था बनाने को कहा साथ ही पुलिस अधीक्षक नगर को प्रतिदिन सीमा चैकपोस्ट पर हुई सैम्पलिंग का विवरण के साथ वर्चुअल बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीमा चैकपोस्ट पर इस तरह की व्यवस्था बनाई जाए, जिससे कोई भी  व्यक्ति बिना सैम्पल दिए जनपद में प्रवेश ना कर पाए। उन्होंने कहा सभी एमओआईसी अपने-अपने क्षेत्रान्र्तगत स्थित सब्जी मण्डी, बाजारों, भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर मोबाईल टीम भेजकर सैम्पलिंग करवाएं।
जिलाधिकारी ने समस्त एमओआईसी को अपने क्षेत्रों टीकाकरण का प्लान बनाने के साथ ही एमओआईसी चकराता, कालसी रायपुर, डोईवाला को अपने यहां ऐसे पहाड़ी क्षेत्र जहां बरसात में सड़के बाधित होने की सम्भावना अधिक होती है ऐसे स्थानों पर प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि एचआईएचटी निबंूवाला में टीकाकरण साईट बनाते हुए कार्यरत कार्मिकों का विवरण प्राप्त करते हुए टीकाकरण करवाया जाए।



 जिलाधिकारी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुपालन में आज नगर निगम देहरादून / ऋषिकेश की  टीमों के द्वारा तिलक रोड देहरादून एवं  ऋषिकेश में एक घंटे का डेंगू मलेरिया जन जागरूकता अभियान चलाया गया, जिसमें कार्यकर्ताओं द्वारा घर- घर जाकर पंपलेट वितरित कर जन सामान्य को डेंगू मलेरिया से बचाव हेतु जागरूक किया तथा डेंगू मलेरिया की रोकथाम ध्नियंत्रण हेतु प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही के अंतर्गत  लार्विसाइड / इंसेक्टिसाइड का छिड़काव / फाॅगिंग कराई गई भ्रमण के दौरान संबंधित क्षेत्रों के अधिकारी , कर्मचारी एवं क्षेत्रीय प्रतिनिधि मौजूद थे अभी तक जनपद देहरादून में कहीं पर भी डेंगू मच्छर का लार्वा एवं डेंगू धनात्मक रोगी नहीं पाया गया है।

Post a Comment

Powered by Blogger.