Halloween party ideas 2015


आपदा निर्माण कार्यों में तेजी लाये अधिकारी- डाॅ. धन सिंह रावत

विभागीय निर्माण इकाइयों की समीक्षा बैठक में दिये निर्देश 

एस.डी.आर.एफ परिसर, विभागीय मुख्यालय, बाढ़ नियंत्रण तथा आपदा ग्रस्त पुलों का चल रहा है निर्माण कार्य

देहरादून:

 

 आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास मंत्री डाॅ.धन सिंह रावत ने आज अपने शासकीय आवास पर विभागीय निर्माण इकाइयों की समीक्षा बैठक ली, जिसमें उन्होंने  आपदा विभाग की भवन निर्माण इकाई, सड़क एवं पुल निर्माण इकाई तथा बाढ़ नियंत्रण इकाई के अन्तर्गत चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को अनुबन्ध के अनुसार नियत समय पर कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि वर्तमान में चल रहे सभी निर्माण कार्यों को यथा समय 2022 तक किसी भी हालत में पूर्ण कर  लिया जाए। 



बैठक में बीपीएम दयानन्द ने बताया कि पुल निर्माण इकाई के अन्तर्गत ण्राज्य में कुल 58 पुल स्वीकृत है, जिसमें से 3 पुलों स्यालदेय (अल्मोड़) कोहलीगाड़ तथा कोट ब्रिज घनसाली का कार्य पूर्ण हो चुका है जबकि अन्य पुलों का निर्माण कार्य जारी है। इ0 अजय वर्मा ने बताया कि  उनके पास 5 नदी सुरक्षा बाढ़ के कार्य हैं, जिनमें बिरही, कोठालसैंण व मैठाणा चमोली गढ़वाल, बांसवाड़ा रूद्रगप्रयाग तथा कीर्तिनगर टिहरी में चल रहे है, जिनको यथा समय पूर्ण कर लिया जायेगा। 

भवन निर्माण इकाई के डी.पी.एम इ0 विकास बड़थ्वाल ने बताया कि इकाई के अन्तर्गत राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के मुख्यालय का भूकम्प रोधी भवन तथा एस.डी.आर.एफ का परिसर निर्माणाधीन है, जिनका कार्य तेजी से चल रहा है। 

सचिव, वित्त एवं  विभागीय वित्त नियंत्रक गंगा प्रसाद ने बताया कि निर्माण इकाइयों के द्वारा जो कार्य किये जा रहे हैं सभी विश्व बैंक पोषित है। जिनका निर्माण कार्य मार्च 2022 तक पूर्ण किया जाना है। उन्होंने बताया कि सभी परियोजनाओं की  विश्व बैंक की टीम लगातार ऑनलाइन मॉनिटरिंग कर रही है। साथ ही भारत सरकार के साथ हर तीन माह में समीक्षा बैठकें आयोजित की जाती है।

Post a Comment

Powered by Blogger.