Halloween party ideas 2015

 SDRF द्वारा कोविड संक्रमित शवों के अंतिम संस्कार हेतु दाह संस्कार सामग्री,पहुँचाई गयी




        प्रतिदिन ही कोविड महामारी के कहर से पीड़ित परिजन शवों के साथ रायपुर श्मशान में पहुँचते है, और दाह संस्कार करते है, जहां तक शव को पहुँचाने  एवम दाह संस्कार करने में SDRF पुलिस हर सम्भव प्रयास करती है  SDRF उत्तराखंड पुलिस परिजनों की  इस तीक्ष्ण वेदना को समझती है और हर प्रकार से इसे न्यून करने के लिए प्रयासरत है

      नए प्रयासों में बल के द्वारा ऐसे  सामाजिक संगठन  जो अलग अलग प्रकार से सहायता करना चाहते है किंतु स्पष्ट पथ न होने से मदद नही कर पा रहे थे,  के सहयोग से SDRF  सभी शवों के धार्मिक रीति रिवाजों से दाह संस्कार के लिए दाह संस्कार सामग्री पहुँचा रही है जिसमे बड़ी संख्या में  दाह संस्कार के दौरान प्रयोग होने वाली सामग्री और हांडी (मिट्टी की मटकी जो तिल इत्यादि)   देहरादून स्थित रायपुर श्मशान घाट में पहुँचाई गयी है, अनेक परिजन जो धार्मिक रीति रिवाजों के साथ अंतिम संस्कार के लिए सामग्री हेतु भटक रहे थे ओर परेशान थे, उस दर्द को कम करने का यह प्रयास किया गया है  धार्मिक मान्यताओं के साथ अंतिम संस्कार हेतु  पण्डितजनो से भी  SDRF के द्वारा इस कार्य मे सहयोग मांगा गया, जिस में आगे आकर सहयोग प्रदान करते हुए  श्री दीपक तिवारी और अतुल मिश्रा सभी शवों का रीति रिवाजों के साथ विधिक मान्यताओं से अंतिम संस्कार कर रहे हैं, प्रक्रिया के दौरान कोविड SOP गाइडलाइंस का भी पूर्णतः पालन किया जा रहा है।

     ज्ञातव्य हो कि सामाजिक संगठनों की मदद से ही SDRF टीम  घाटों में शवों के साथ आये परिजनों को भी लगातार पानी की बोतल वितरित कर रही है, उसके अतरिक्त सम्पूर्ण उत्तराखंड में कोविड संक्रमित शवों के दाह संस्कार हेतु जनपदवार टीमो की नियुक्ति की गई है वर्तमान समय तक 120 से अधिक  कोविड संक्रमित शवों का दाह संस्कार SDRF बल द्वारा किया गया है। पूर्वतः सहायता के क्रम में SDRF सेनानायक श्री नवनीत भुल्लर द्वारा  शव  के  दाह संस्कार हेतु साथ आये परिजनों के सहयोग के लिए यह  नव पहल की गई है।

Post a Comment

Powered by Blogger.