Halloween party ideas 2015

 डोईवाला;

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोईवाला के टीकाकरण केंद्र में अनियमितता देखने को मिली जब कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट प्राप्त करने हेतु व्यक्ति उसी स्थान पर  नज़र  आये ,जहां टीकाकरण चल रहा था।



डोईवाला में एकमात्र टीकाकरण केंद्र पर भारी भीड़ होना लाजिमी है क्योंकि छिद्दरवाला से भानियावाला तक के ग्रामीण लोग भी टीकाकरण के लिये आते है। ऐसे में टीकाकरण स्थान से लगते हुए कमरे में कोविड टेस्ट रिपोर्ट दी जा रही है। जिसे लेने पॉजिटिव नेगेटिव लोग उसी स्थान पर घूम  रहे है ।जहां टीकाकरण कराने वाले व्यक्ति बैठे है।  यही नही टीकाकरण और रिपोर्ट देने वाला स्टॉफ भी एक ही है। 

हालांकि चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर केएस भंडारी का कहना है कि रिपोर्ट देने के लिए संबंधित व्यक्तियों को गेट के बाहर ही रोका जाता है. ड्यूटी पर लगे तो आपकी जिम्मेदारी है कि वह कोरोना टेस्ट रिपोर्ट को बाहर से बाहर ही दे दे .


ऐसे में ये सवाल उठता है कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए भी  अस्प्ताल प्रशासन द्वारा ऐसा क्यों किया गया। क्या कोई दूसरा स्थान  रिपोर्ट  देने के लिये इतने बड़े अस्पताल में उपलब्ध नही था? 


छिद्दरवाला से आये एक व्यक्ति ने बताया कि  कल उनका कोविड टेस्ट हुआ था, इसलिए वह घण्टो  तक अपने कोविड रिपोर्ट की इंतज़ार वहॉं कर रहे थे। जहां टीकाकरण वाले लोग बैठे थे। इनके साथ के लोग शादी में भाग लेने के बाद पॉजिटिव आ चुके है इसलिये उन्हें बेसब्री से अपनी रिपोर्ट का इंतजार है।



ये किसे मालूम कि इनका टेस्ट पॉजिटिव आएगा या नेगेटिव। इस प्रकार असावधानी से संक्रमण का खतरा कई गुना बढ़ सकता है। कहीं ऐसा न हो कि टीकाकरण के केंद्र ही संक्रमण की चेन को बढ़ा दें। इसलिये अत्यंत सावधानी  के साथ दोनो स्थानों को अलग अलग अलग स्थानो पर रखना चाहिए।

जनप्रतिनिधियों ने भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी और एसडीएम डोईवाला को  इस बारे में अवगत कराया जा चुका है।

Post a Comment

Powered by Blogger.