Halloween party ideas 2015

    ऋषिकेश :  





उत्तराखंड मे पहाडी क्षेत्र मे  जंगलो मे लगी आग विकारल होनी लगी है । जहां जंगल की  आग की चपेट मे आने के कारण वन्य जीवों आ रहे है । वहीं जंगल की आग गांव के लिये खतरा बन रही है। जहां राजधानी देहरादून की सीमा से लगता हुआ सबसे निकटतम पहाड़ी क्षेत्र के  यमकेश्वर विधानसभा के जंगलों से उडता धुआँ  व जल रही वन संपदा अग्नि कांड की घटनाओं से बुरी तरह प्रभावित है ।

समाज सेवी पूर्व सैनिक व लगातार क्षेत्र की जन समस्याओं को उजागर करने वाले क्षेत्र पंचायत सदस्य सुदेश भट्ट ने बताया कि विधानसभा क्षेत्र के यमकेश्वर के अंतर्गत ढांगु पट्टी की ग्राम सभा जोग्यांणा के काटल तोक मे हरपाल सिंह की गौशाला मे आग की लपटों मे धुं धुं कर जल कर खाक हो गयी । गौशाला के अंदर बंधी एक गाय व एक बैल  जलकर राख हो गये  जबकि दूसरा बैल  किसी तरह खुंटा उखाड कर जान बचाने मे सफल रहा । इस  हृदय विदारक घटना से हरपाल सिंह सहित समस्त ग्रामीण अत्यधिक दुखी  हैं । सुदेश भट्ट के अनुसार इतनी  बडी घटना के बाद भी शासन प्रशासन व विभाग द्वारा पीडित परिवार के प्रति ना ही कोई सहानुभूति दर्ज की गयी और  ना ही कोई इस  घटना का मौके का आकलन करने घटना स्थल पर पहुंचा  ।जिससे ग्रामीणों मे आक्रोश है सुदेश भट्ट ,स्थानीय ग्रामीणों ध्यान सिंह बिष्ट, कलम सिंह, मोहन सिंह, प्रेम सिंह, शिव सिंह, श्रुमान सिंह, कल्यांण सिंह, उमेश सिंह, संदीप सिंह, मुकेश सिंह, प्रदीप, सुमित, विरेंद्र सिंह बिष्ट महिमानंद भट्टकोटी ने अग्नि कांड से हरपाल सिंह को हुई भरपाई के लिये सरकार से दस लाख की धनराशि  उपलब्ध करा पीडित परिवार को मुवावजा देने की मांग की ।

Post a comment

Powered by Blogger.