Halloween party ideas 2015

 

देहरादून :




कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं प्रभावी नियंत्रण हेतु जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने वीडियोकान्फ्रेसिंग के माध्यम से सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को कोविड-19 संक्रमण के उपचार हेतु अधिकृत सम्बन्धित चिकित्सालयों में बैड बढाने, सैम्पलिंग बढ़ाने तथा टीकाकरण कार्यों में तेजी जाने के निर्देश दिए। उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी को कोविड-19 सैम्पल प्राप्त करने हेतु अनुमत लैबों द्वारा लिए जा रहे सैम्पल के दौरान सामाजिक दूरी के मानकों का परिपालन करवाने के साथ ही तत्काल पोर्टल पर एन्ट्री करवाने तथा सैम्पल प्राप्त करने के दौरान सम्बन्धितों का पूर्ण पता एवं यात्रा विवरण प्राप्त करने हेतु निर्देशित करने को कहा।

उन्होने समस्त कोविड चिकित्सालयों के चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे 24 घंटे पूर्व आक्सीजन की मांग भेजे ताकि समय से आक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके, जिससे चिकित्सालयों में आक्सीजन की कमी ना होने पाए। उन्होंने कहा कि सभी कोविड चिकित्सालयों में आक्सीजन कंसीटेटर स्थापित किए जाएं साथ ही लिक्विड आक्सीजन की आवश्यकता की मांग समय से की जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि वे सीएससी विकासनगर के माध्यम से लेहमन अस्पताल में तथा सीएससी सहसपुर के माध्यम से सुभारती व आरोग्यधाम अस्पताल में एन्टीजन तथा आरटीपीसीआर टेस्ट की व्यवस्था कराना सुनिश्चित करें। 

जनपद में सैम्पल कार्य में और तेजी लाए जाने हेतु निजी लैब्स को भी अनुमति दी गई है। उन्होंने अग्निशमन विभाग के अधिकारियों को समस्त चिकित्सालयों में पावर हाईडेन्ट सिस्टम जांच कर दुरूस्त रखने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि कल किसी भी दशा में विवेकानन्द चिकित्सालय प्रारम्भ हो जाए तथा वहां पर चिकित्सक की तैनाती करते हुए चिकित्सालय की मांग अनुसार आवश्यक उपकरण/सामग्री उपलब्ध कराने के साथ ही महाराणा प्रताप स्पोर्टस कालेज रायपुर में बनाए गए कोविड केयर सेन्टर में 40 आक्सीजन बैड स्थापित करना सुनिश्चित किया जाए।

 जिलाधिकारी ने जनपद देहरादून में अवस्थित विभिन्न निजी चिकित्सालयों में कुल क्षमता का न्यूनतम 70 प्रतिशत् बैड कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों के उपचार हेतु आरक्षित रखे जाने के निर्देश दिए।   

उन्होंने सम्बन्धित उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों में आईवरमैक्टिन दवा का वितरण करते हुए कोविड-19 संक्रमण से बचाव भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाया जाए। उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति चिन्हित होने के फलस्वरूप बनाए गए कन्टेंनमेंट जोन में प्रभावी सर्विलांस कार्य के साथ ही को-मोर्बिडिटी अवस्था वाले व्यक्तियों को नियमित स्वास्थ्य की माॅनिटिरिंग भी की जाए। 

कोविड-19 संक्रमित व्यक्तियो के लिए सम्बन्धित चिकित्सालयों में आक्सीजन व्यवस्था हेतु डिप्टी कलेक्टर/उप जिला मजिस्टेªट (मुख्यालय) देहरादून उप जिलाधिकारी प्रेरेम लाल को प्रभारी अधिकारी (आक्सीजन प्रबन्धन) का अतिरिक्त दायित्व सौंपा है। नोडल अधिकारी आक्सीजन प्रबन्धन/ महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र शिखर सक्सेना तथा सह नोडल अधिकारी जिला पूर्ति अधिकारी जसंवत सिंह कण्डारी,  प्रभारी अधिकारी आक्सीजन के निर्देशन में आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के प्रति उत्तरदायी होंगे।

जिलाधिकारी डाॅं0 आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के  दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 1605 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 47947 हो गयी है, जिनमें कुल 35646 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में 10697 व्यक्ति उपचाररत हैं। आज जांच हेतु कुल 6661 सैम्पल भेजे गए। जनपद में आज 29335 व्यक्तियों का कम्यूनिटी सर्विलांस किया गया जिसमें 56 व्यक्तियों में कोविड-19 संक्रमण सम्बन्धी लक्षण पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग को आवश्यक कार्यवाही हेतु अवगत कराया गया। 

आज नगर निगम देहरादून द्वारा नगर निगम  क्षेत्रान्तर्गत सेनिटाइजेशन किया गया इस दौरान कचहरी एवं तहसील परिसर अवस्थित कार्यालयों में सेनिटाइजेशन का कार्य किया गया। 


Post a Comment

Powered by Blogger.