Halloween party ideas 2015

 कल आईजी मेला श्री सजंय गुंज्याल एवं मेलाधिकारी श्री दीपक रावत के द्वारा आगामी चैत्र पूर्णिमा शाही स्नान पर्व की व्यवस्थाओं के सम्बंध में बड़े अखाड़े के पदाधिकारियों श्री महंत दुर्गादास जी, श्री महंत महेश्वर दास जी, श्री महंत अद्वेतानंद जी, कोठारी दामोदरदास जी, श्री व्यास मुनि जी, निर्मल से श्री देवेंद्र शास्त्री जी, कोठारी जसविंदर सिंह जी, नया उदासीन से सचिव श्री जगतार मुनि जी से विचार-विमर्श किया गया।

अखाड़ों के पदाधिकारियों के द्वारा इस विचार-विमर्श के दौरान सर्वसम्मति से मेला पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों आश्वस्त किया गया कि आगामी चैत्र पूर्णिमा के शाही स्नान के दौरान उत्तराखंड सरकार की गाइडलाइंस का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। शाही जुलूस में अखाड़ों के साधु-संत सीमित संख्या में स्नान हेतु आयेंगे, वाहन भी सीमित संख्या में प्रयोग किये जायेंगे और शाही स्नान के दौरान आम जनों को सम्मिलित नही किया जाएगा। इसके अलावा स्नान के लिए जो समय सारिणी मेला पुलिस-प्रशासन तय करेगा उसका पूर्ण रूप से पालन किया जाएगा। 



आगामी अंतिम शाही स्नान के सम्बंध में इसी प्रकार का आश्वासन पूर्व में बैरागी अखाड़ों के पदाधिकारियों के द्वारा भी मेला पुलिस-प्रशासन को दिया जा चुका है।

मेला पुलिस-प्रशासन के अधिकारियों के द्वारा भी अखाड़ो के पदाधिकारियों को आश्वस्त किया गया कि अंतिम शाही स्नान के दौरान सुरक्षा एवं सुविधाओं के चाक चौबंद इंतजाम किए जाएंगे।

इस बैठक में अपर मेलाधिकारी श्री हरबीर सिंह, सीओ यातायात कुम्भ श्री प्रकाश देवली, सीओ अखाड़ा श्री प्रबोध घिल्डियाल एवं प्रभारी निरीक्षक कुम्भ थाना कनखल श्रीमती भावना कैंथोला भी सम्मिलित रही।

Post a Comment

Powered by Blogger.