Halloween party ideas 2015


हरिद्वार: 




मेला अधिकारी श्री दीपक रावत की अध्यक्षता में मेला नियंत्रण भवन(सी0सी0आर0) में कुम्भ से सम्बन्धित निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। 

बैठक में मेला अधिकारी ने सर्वप्रथम अधिकारियों से अस्थाई निर्माण कार्याें की जानकारी ली। अधिकारियों ने मेला अधिकारी को जानकारी दी कि हमारा 18 सेक्टर में काम चल रहा है तथा सड़कांें का डिमार्केशन तेजी से चल रहा है। हम 15 जनवरी तक सभी कार्य पूरे कर लेंगे। 

अधिकारियों ने बताया कि टेण्ट से सम्बन्धित कार्य हम 08 फरवरी तक कर लेंगे, टिन वैरिकेटिंग का टेण्डर हो चुका है, इलेक्टिकल की कल प्राइस बिड खुलेगी। जल निगम के अधिकारियों ने बताया कि वाटर कनेक्शन का हमारा 15 प्रतिशत कार्य हो चुका है। मेलाधिकारी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से गंगा में पानी के लेबल के सम्बन्ध में भी जानकारी ली।

अस्थाई विद्युतीकरण के कार्य के सम्बन्ध में अधिकारियों ने मेला अधिकारी को बताया कि हमारे काम शुरू हो गये हैं। हम 15 फरवरी तक सभी कार्य पूर्ण कर लेंगे। 

लोक निर्माण के अधिकारियों ने मेला अधिकारी को बताया कि  सात किमी. में से साढ़े पाच किमी. का काम पूर्ण हो चुका है। अधिकारियों ने बताया कि बिजली विभाग की वजह से झण्डा चैक के पास कार्य रूका हुआ है। इस पर बिजली विभाग के अधिकारियों ने कहा कि आप रोड का काम कर सकते हैं।

 मेला अधिकारी ने लोक निर्माण के अधिकारियों से पूछा कि नगर निगम हरिद्वार एरिया में सड़क सम्बन्धी कब तक काम हो जायेंगे, इस पर अधिकारियों ने बताया कि 15 जनवरी तक सारे कार्य पूर्ण हो जायेंगे। मेलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सड़कों के निर्माण में गुणवत्ता का पूरा ध्यान रखा जाये। मेला अधिकारी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को भी निर्देश दिये कि सिंचाई विभाग द्वारा बनाई जाने वाली सड़कें भी 20 जनवरी तक पूर्ण हो जानी चाहिये।

मेलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि पुलों की रंगाई-पुताई का काम एक सप्ताह के भीतर हो जाना चाहिये। इसके अतिरिक्त डाम कोठी की रंगाई व पुताई भी यथाशीघ्र होनी चाहिये। 

मेलाधिकारी ने सीवरेज सम्बन्धी कार्य पूर्ण करने के लिये अधिकारियों को 10 फरवरी तक का समय दिया। जल संस्थान के अधिकारियों ने मेलाधिकारी को बताया कि खरीददारी सम्बन्धी कार्यादेश जारी हो चुके हैं तथा 15 फरवरी तक कार्य पूर्ण हो जायेंगे। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने मेलाधिकारी को बताया कि सभी के टेण्डर हो चुके हैं। 

श्री दीपक रावत ने मुख्य नगर आयुक्त श्री जय भारत सिंह से नगर की सफाई-व्यवस्था के सम्बन्ध में भी विस्तृत जानकारी ली। 

मेलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे आपसी समन्वय से शेष जो भी कार्य हैं, उन्हें यथाशीघ्र पूर्ण करे।

इस अवसर पर अपर मेला अधिकारी श्री हरवीर सिंह, एवं श्री रामजी शरण, उप मेला श्री कृष्ण सिंह नेगी, वित्त नियंत्रक श्री बिरेंद्र कुमार, स्वास्थ्य मेलाधिकारी श्री ए0के0 सेंगर, विशेष कार्याधिकारी,कुम्भ मेला, श्री महेश शर्मा, सिंचाई, पेयजल, विद्युत, लोक निर्माण, पुलिस सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे। 

Post a comment

Powered by Blogger.