Halloween party ideas 2015

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि भारत की दो स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन और कोविशिल्ड को  वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन से मंजूरी मिल गई है। डीसीजीआई (महानिदेशक औषधि नियंत्रक) ने दोनों वैक्सिन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है उन्होंने कहा कि दोनों वैक्सीन  110% सुरक्षित हैं।



 इसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि वैज्ञानिकों की मेहनत रंग लाई है भारत का सपना पूरा हुआ है उन्होंने कहा कि हर भारतीय के लिए आज गर्व का दिन है ।

कोविशिल्ड सिरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन है । अभी तक की सबसे सस्ती व्यक्ति के नाम से इसे जाना जाता है ।इसका आधार प्रोटीन है । वैक्सिन दो डोज में लगेगी ।इसकी एक डोज की कीमत ₹1000 है ।स्टोरेज के लिए 2 से 8 डिग्री तापमान तक रखा जाता है। कोवैक्सीन देश की दूसरी वैक्सीन है कि जिसको भारत बायोटेक ने विकसित किया है ।



भारत में बनी वैक्सीन का वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने स्वागत किया है । 

" हर भारतीय को गर्व होगा कि जिन दो व्यक्तियों का मेडिसिंस इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है। वह भारत में बनी है । यह हमारे वैज्ञानिकों की शोध के प्रति उत्सुकता को दिखाता है  यह आत्म निर्भर भारत के सपने को पूरा करने वाला है।" ,नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री ने यह ट्वीट किया ।

पूरे देश में 82 लाख टीकाकरण केंद्र पर वैक्सीन दी जाएगी।। परंतु हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि  वैक्सीन लगने तक और उसके बाद भी पब्लिक हेल्थ मानकों को मानना होगा।




Post a comment

Powered by Blogger.