Halloween party ideas 2015

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उत्तराखण्ड भेड़ एवं ऊन विकास बोर्ड द्वारा जनपद उत्तरकाशी एवं पिथौरागढ़ के अन्तर्गत भेड़ एवं बकरियों के पशुआहार क्रय में  वित्तीय अनियमितताएं सम्बन्धित शिकायत को गम्भीरता से लेते हुए उच्च स्तरीय जांच के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश द्वारा कृषि उत्पादन आयुक्त, श्रीमती मनीषा पंवार की अध्यक्षता में एक जांच समिति का गठन किया गया है। जांच समिति में अपर सचिव वित्त श्री भूपेश तिवारी सदस्य होंगे।मुख्य सचिव ने जांच समिति से प्राप्त शिकायत पर 15 दिनों के भीतर अपनी जांच आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं।

काश्तकारों को आय बढ़ाने के लिए मिलेंगी भेडे़: डाॅ. धन सिंह रावत

थलीसैण व तिरपालीसैण में खुलेंगे स्थानीय उत्पादों के लिए स्टोर





सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने आज विधानसभा स्थित कार्यालय कक्ष में केंन्द्र वित्त पोषित एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना की समीक्षा बैठक ली। बैठक में सहकारिता मंत्री ने आईएलएसपी, डब्ल्यूएमडी, एनआरएलएम, यूजीवीएस के अंतर्गत संचालित योजनाओं की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि श्रीनगर विधानसभा के अंतर्गत श्रीनगर गढ़वाल व थलीसैण अथवा तिरपालीसैण क्षेत्र में उत्पादित उत्पादों का स्टोर एवं आउटलेट खोला जाय। ताकि क्षेत्र के प्रत्येक परिवार को इस योजना का लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि खिर्सू, थलीसैण व पाबौं विकासखंड के किसानों एवं ग्रामीणों की आय में वृद्धि करने के लिए सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के तहत भेड़-बकरियां भी उपलब्ध कराई जाय।

बैठक में भेड़ एवं ऊन विकास बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डाॅ. अविनाश आनंद ने बताया कि सहकारी समिति से जुड़े काश्तकारों को दस मादा एवं एक नर भेड़ दिया जा रहा है। बशर्ते कि काश्तकारों के पास पहले से दस मादा भेड़ होनी आवश्यक है।

बैठक में सचिव सहकारिता एवं मुख्य परियोजना अधिकारी एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना मिनाक्षी सुंदरम, अपर परियोजना अधिकारी इकबाल अहमद, आईएनएसपी के क्षेत्रीय प्रबंधक महेन्द्र सिंह यादव, आईएलएसपी प्रबंधक जनपद पौड़ी अशोक चतुर्वेदी आदि अधिकारी मौजूद रहे। 

Post a Comment

Powered by Blogger.