Halloween party ideas 2015

एसडीआरएफ, उत्तराखंड  द्वारा विगत 24 घण्टे में किये रेस्कयू कार्य




दिनाँक 11 अगस्त :

 सोंग नदी में गायों का रेस्क्यू - विगत 3-4 दिनों से हो रही बारिश के कारण सोंग नदी का जलस्तर अत्यधिक बढ़ने से 5 गाय नदी पर बने टापू में फस गयी। सूचना प्राप्त होते ही एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम पोस्ट सहस्त्रधारा से घटनास्थल पर पहुँची। टीम द्वारा कड़ी मशक्कत के पश्चात वहाँ फसी गायो को सकुशल निकाला। विगत समय मे  एसडीआरएफ द्वारा अनेको रेस्क्यू अभियानों के माध्यम से सैकड़ों गोवंशों/मवेशियों का जीवन सुरक्षित किया है।

 11 अगस्त- कपकोट में पेड़ से मार्ग अवरुद्ध-
 कपकोट में पेड़ गिरने से मार्ग अवरुद्ध हो गया था जिसकी सूचना एसडीआरएफ को मिलने पर रेस्क्यू टीम द्वारा मय कटिंग उपकरणों के घटनास्थल से पेड़ को काटकर मार्ग से हटाया व यातयात सुचारू किया।

 दिनाँक 12 अगस्त-
रुद्रप्रयाग में वाहन दुर्घटना होने पर ,जिला नियंत्रण कक्ष रुद्रप्रयाग द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि रुद्रप्रयाग तहसील के पास अगस्त्यमुनि रोड पर एक स्कार्पियो वाहन 200 मीटर गहरी खाई में दुर्घटना ग्रस्त हो गया है । उक्त वाहन में 04 लोग सवार थे। जिनमें से एक व्यक्ति वाहन खाई में गिरने से पहले छिटक गया था। जिसे वहां उपस्थित लोगों द्वारा अस्पताल पहुँचा दिया गया।

एसडीआरएफ को सूचना मिलते ही तत्काल रेस्क्यू टीम द्वारा घटनास्थल पर पहुँच कर रोप की सहायता से 200 मीटर गहरी खाई में उतरकर गहन सर्चिंग के पश्चात एक घायल महिला को ढूढ़कर रोप स्ट्रैचर के माध्यम से मुख्य मार्ग पर पहुँचाया साथ ही एक महिला का शव भी बरामद किया । एक व्यक्ति लापता है जिसकी सर्चिंग  SDRF द्वारा की जा रही है।

आज दिनाँक 12 अगस्त :

एसडीआरएफ  टीम को बीन नदी में पानी के तेज बहाव में एक वाहन फंसा नज़र आया । टीम द्वारा वाहन में फंसे 3 ब्यक्तियों और वाहन को दूसरी तरफ सकुशल निकला गया,  वाहन सवारों द्वारा बताया गया कि वो  उत्तर प्रदेश के एम्स हॉस्पिटल आये थे।

Post a comment

Powered by Blogger.