Halloween party ideas 2015




उत्तराखंड में आज कोरोना पॉजिटिव के 20 मामले आए हैं।  जिसे मिलाकर उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के कुल मामले अब 2642 हो गए हैं। जिसमें सक्रिय केसों की संख्या 845 है आज 24 लोग ठीक हो चुके है, रिकवर मामलों की संख्या 1745 है। अभी तक 35 लोगों मृत्यु हो चुकी है आज 1339 लोगों के सैंपल रिपोर्ट  नेगेटिव पाए गए हैं।  उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के ठीक होने की दर बढ़कर 66.01% हो गयी है। आज टिहरी जनपद से 1, देहरादून से 4, पौड़ी से 2, हरिद्वार से 2, उधमसिंह नगर से 11 कोरोना संक्रमण के मामले  सामने आये है, इनमे से 1 हेल्थ केअर वर्कर है, 5 की  ट्रैवल हिस्ट्री ज्ञात नहीं है बाकी सब प्रवासी उत्तराखंड है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, एम्स ऋषिकेश में पिछले 24 घंटे में 5 लोगों की रिपोर्ट कोविड पाॅजिटिव आई है। इनमें एम्स संस्थान का एक नर्सिंग ऑफिसर भी शामिल हैं। संस्थान की ओर से इस बाबत स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को अवगत करा दिया गया है।
 एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल जी ने बताया कि संस्थान में की गई कोविड सेंपलिंग में 5 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।  उन्होंने बताया कि एक समालका, दिल्ली निवासी 58 वर्षीय व्यक्ति जो कि हृदय संबंधी बीमारी के उपचार के लिए 4 जून से एम्स में भर्ती हैं। एम्स में पहुंचने पर इनका पहला सेंपल बीती 4 जून को लिया गया था जो कि नेगेटिव पाया गया। इसके बाद उन्हें एम्स के आइसोलेशन वार्ड आईपीडी में भर्ती कर दिया गया। उन्होंने बताया कि बीती 22 जून सोमवार को उनका दूसरो सेंपल कोविड पॉजिटिव आया है जिसके बाद उन्हें कोविड वार्ड में शिफ्टकर दिया गया है।दूसरा मामला लकड़ीपड़ाव, कोटद्वार पौड़ी गढ़वाल का है। 48 वर्षीय व्यक्ति जो कि हृदय संबंधी बीमारी ग्रसित हैं व 8 जून से एम्स में भर्ती हैं। इनका बीती 9 जून को संस्थान में पहला कोविड सेंपल लिया गया था जो कि नेगेटिव आया था, 22 जून को इनका दूसरा कोविड सेंपल लिया गया,जिसकी रिपोर्ट बृहस्पतिवार को पॉजिटिव आई है। लिहाजा पेशेंट को कोविड वार्ड में उपचार के लिए भर्ती कर दिया गया है। तीसरा मामला टनकपुर, चंपावत का है, हृदय रोग से ग्रसित एक 65 वर्षीय व्यक्ति बीती 12 जून से एम्स आईपीडी में हैं,जिनका पहला सेंपल 13 जून को लिया गया था जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी, मरीज का बीते मंगलवार को लिया गया सेंपल बृहस्पतिवार को पॉजिटिव पाया गया है,जिसके बाद इन्हें कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। एक अन्य मामला शाहगंज, आगरा उत्तरप्रदेश का है, जिसमें एक 69 वर्षीय महिला जो कि  खांसी की शिकायत के साथ बीती 22 जून को एम्स इमरजेंसी में आई थी, महिला बीती 21 जून को आगरा से ऋषिकेश पहुंची थी जो कि इसी दिन से सीमा डेंटल कॉलेज में क्वारंटाइन थी। महिला का सेंपल कोविड पॉजिटिव आने पर इन्हें एम्स कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। गौरतलब है कि इस महिला के पति, पुत्र व पुत्रवधु पहले ही कोविड पॉजिटिव आ चुके हैं, जिनका एम्स ऋषिकेश में उपचार चल रहा है। एक अन्य मामला शिवा इंक्लेव आवास विकास कॉलोनी ऋषिकेश का है। एक 25 वर्षीय युवती जो कि एम्स में नर्सिंग ऑफिसर है। इनका बीते बुधवार को एम्स में कोविड सेंपल लिया गया था, जो कि बृहस्पतिवार को पॉजिटिव पाया गया है। नर्सिंग ऑफिसर बीते दिवस से होम आइसोलेशन में था, जिसे रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव आने पर कोविड वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि सभी मामलों के बारे में संस्थान की ओर से स्टेट सर्विलांस ऑफिसर को सूचित कर दिया गया है।

Post a comment

Powered by Blogger.