Halloween party ideas 2015



देवभूमि विचार मंच देहरादून उत्तराखंड द्वारा आज दिनांक 20 जून 2020 को Role of women in law making  विषय को लेकर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में डॉ विद्या देवधर महाजन, तेलंगाना महिला साहित्य परिषद की अध्यक्ष उपस्थित रही, साथ ही  भगवती प्रसाद राघव जी तथा डॉ अनिता  अगरवाल् विशिष्ट अतिथि के रुप में उपस्थित रहे ।
 कार्यक्रम की संयोजिका डॉक्टर पल्लवी जिन्होंने कार्यक्रम का संचालन और कानून बनाने में महिलाओं की भूमिका पर प्रकाश डाला इसके साथ ही इस अवसर पर  अपने महत्वपूर्ण उद्बोधन में डॉ विद्या देवधर ने इतिहास में महिलाओं की भूमिका और कानून को लेकर उनकी सजगता के कई, उदाहरण दिए। जिसमें अहिल्याबाई होलकर सहित लक्ष्मी बाई आदि महिलाओं का जिक्र किया साथ ही साथ संविधान के निर्माण में और कानून जिन्होंने स्वतंत्रता के बाद समाज में प्रभावशाली भूमिका अदा की उनका भी उल्लेख किया ,2013 का विशाखा जजमेंट साथ ही साथ लोकसभा में महिलाओं की भूमिका क्रमशः प्रथम सत्र से लेकर वर्तमान सत्र तक जिसमें वर्तमान कैबिनेट में 6 महिलाओं की भूमिका पर भी उन्होंने प्रकाश डाला।

 कानूनों को लेकर महिलाओं में और जागृति हो इसके लिए और सजग प्रयास करने की आवश्यकता पर बल देते हुए  भगवती प्रसाद राघवजी ने अपने उद्बोधन में इसके महत्व पर जोर देने को कहा कार्यक्रम में  डॉक्टर अंजली वर्मा   डॉ ऋचा कंबोज डॉक्टर निशा वर्मा डॉ मीनाक्षी डॉ डीपी सकलानी डॉ रवि शरण दिक्षित सहित कई विद्वत जनों ने भागीदारी की।

Post a comment

Powered by Blogger.