Halloween party ideas 2015

देहरदाूनः





सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल (स्वतंत्र प्रभार) राज्य मंत्री डाॅ धन सिंह रावत ने आज फेसबुक लाइव संवाद कार्यक्रम के जरिये श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के पंचायत एवं निकाय प्रतिनिधियों से जुड़े। इस ई-संवाद कार्यक्रम में 206 ग्राम सभा के प्रधान, 89 क्षेत्र पंचायत सदस्य, 11 जिला पंचायत सदस्य और श्रीनगर नगर पालिका के 13 पर्षदों के साथ सहकारिता मंत्री डाॅ धन सिंह रावत ने कोरोना महामारी (कोविड-19) सहित विभिन्न क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की। इसके साथ ही डाॅ रावत ने सभी जन प्रतिनिधियों के सुझाव और अपनी भविष्य की योजनाएं साझा की।

फेसबुक लाइव संवाद कार्यक्रम दौरान डा. धन सिंह रावत ने कहा कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत थलीसैंण्ड, खिर्सू, पाबौं, ढौढ़ियालस्यूं और बीरोंखाल के पंचायत प्रतिनिधियों ने कोरोना महामारी के खिलाफ प्रशासन के साथ मिलकर अच्छा काम किया है। जिसमें महिला प्रधानों ने सबसे अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधानों ने प्रवासियों के लिए जो व्यवस्थाएं की वह काबिले तारीफ है। वहीं उन्होंने ग्राम प्रधानों द्वारा जुटाई गई सहायता राशि को पीएम केयर्स फंड एवं सीएम रिलीफ फंड में दान दिये जाने पर उनका आभार व्यक्त किया। इसके साथ उन्होंने बताया कि  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आपदा प्रबंधन के तहत ग्राम प्रधानों को पर्यापत अधिकार दिये ताकि वह अपनी ग्राम सभा में बेहत्तर काम कर सके।

इस दौरान सहकारिता मंत्री डाॅ रावत ने बताया कि उनकी प्रत्येक ब्लाॅक में दो संस्कृत ग्राम स्थापित करने की योजना है। इसके अलावा वह प्रत्येक ग्राम सभा में एक पुस्तकालय की स्थापना भी करेंगे। ताकि ग्राम स्तर पर ही गांववासियों को पुस्तक पढ़ने को मिल सकेगी। वहीं उन्होंने बताया कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने चटाई मुक्त अभियान शुरू किया था जो सफल रहा और 23 हजार बच्चे आज कुर्सी-मेज पर पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं उन्होंने कहा कि वह प्रत्येक गांव को सड़क से कनेक्ट करेंगे। साथ उन्होंने बताया सरकार ने सड़कों के नाम शहीदों के नाम पर रखने का फैसला लिया है। इसके अलावा विधानसभा क्षेत्र में क्षेत्र की 7 महान विभूतियों के स्मारक भी बनाये जायेंगे। जिसमें चंद्र सिंह गढ़वाली, एच.एन. बहुगुणा, डाॅ. भक्त दर्शन, पंथ्या दादा, टिंचरी माई, मौला राम और शिवानंद नौटियाल शामिल है।
वहीं उन्होंने बताया कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में अध्यापकों और डाॅक्टारों की अब कोई कमी नहीं है। इसके साथ ही क्षेत्र में स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए राठ विकास अधिकरण की स्थापना कर दी गई है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में क्षेत्र में 8200 प्रवासी घर लौट चुके हैं उन्हें स्वारोजगार उपलब्ध कराने में राठ विकास प्राधिकरण मदद करेगा। इसके साथ ही डाॅ रावत ने बताया कि इस बार पूरे श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र में हरेला का पर्व धूमधाम से मनाया जायेगा और प्रत्येक परिवार इस बार दो पेड़ रोप कर अपनी भागीदारी निभायेगा। वहीं इस दौरान उन्होंने प्रधानों के सुझावों पर कहा कि वह पूरे मनोयोग के साथ क्षेत्र के विकास में जुटे हैं और जल्द क्षेत्र में पहुंचकर प्रधानों का आभार जतायेंगे।

Post a comment

Powered by Blogger.