Halloween party ideas 2015





स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा कि अब तक 17 हजार 847 मरीज ठीक हो चुके हैं और COVID-19 से रिकवरी की दर 29.91 प्रतिशत तक पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान, 1981 में राष्ट्रव्यापी  95 मौतें हुई हैं।

देश में पिछले चौबीस घंटों के दौरान उपन्यास कोरोना वायरस के कुल 3320 नए पुष्ट मामले सामने आए हैं, कुल
मामले  59,662  हो गये है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों न के अनुसार आज सुबह तक सक्रिय COVID-19   मामले 39 हजार 834  हुए।


स्वास्थ्य मंत्रालय ने COVID-19 रोगियों के लिए संशोधित डिस्चार्ज नीति जारी की है। नई नीति के अनुसार, बहुत हल्के, हल्के और मध्यम रोगियों को बिना COVID-19 परीक्षण के छुट्टी दी जा सकती है, नैदानिक ​​स्थितियों के अधीन COVID देखभाल सुविधा में भर्ती किए गए बहुत हल्के, हल्के और पूर्व-लक्षण वाले मामले नियमित तापमान और पल्स ऑक्सीमेट्री मॉनिटरिंग से गुजरेंगे।

रोगी को लक्षण शुरू होने के 10 दिनों के बाद और 3 दिनों तक बुखार नहीं होने पर छुट्टी दी जा सकती है। डिस्चार्ज करने से पहले परीक्षण की आवश्यकता नहीं होगी। रोगी को अगले 7 दिनों के लिए घर के अलगाव का पालन करने की सलाह दी जाएगी। यदि वे बुखार, खांसी या सांस लेने में कठिनाई के लक्षण फिर से विकसित करते हैं, तो उन्हें COVID केयर सेंटर या राज्य हेल्पलाइन या 1075 पर संपर्क करना होगा।

संशोधित नीति के अनुसार, मध्यम मामले शरीर के तापमान और ऑक्सीजन संतृप्ति की निगरानी से गुजरेंगे। यदि बुखार 3 दिनों के भीतर हल हो जाता है और रोगी अगले 4 दिनों तक संतृप्ति को 95 प्रतिशत से ऊपर बनाए रखता है, तो रोगी को 10 दिनों के बाद लक्षणों की छुट्टी मिल जाएगी, बशर्ते कि कोई बुखार या सांस नहीं है।

ऑक्सीकरण पर मरीजों जिसका बुखार 3 दिनों के भीतर हल नहीं होता है और ऑक्सीजन थेरेपी की मांग जारी रहती है, नैदानिक ​​लक्षणों और लगातार 3 दिनों तक ऑक्सीजन संतृप्ति बनाए रखने की क्षमता के समाधान के बाद ही छुट्टी दी जाएगी। गंभीर मामलों के लिए डिस्चार्ज मानदंड आरटी-पीसीआर द्वारा नैदानिक ​​सुधार और रोगी के परीक्षण पर आधारित होगा।

Post a comment

Powered by Blogger.