Halloween party ideas 2015

देहरादून :


 आपको बता दें , सरकार ने कोरोना संक्रमण के चलते  प्रदेश को तीन जोन (श्रेणियों) में बांट दिया है। ये जोन रेड (लाल), ऑरेंज (नारंगी) और ग्रीन (हरा) रखे गए हैं। रेड जोन में वे जिले शामिल किए गए हैं, जिनमें 18 या इससे अधिक कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। ऑरेंज जोन में उन जिलों को रखा गया, जहां एक से 17 तक कोरोना पॉजिटिव मामले मिले हैं, जहां कोई कोरोना पॉजिटिव मामला सामने नहीं आया है, उन जिलों को ग्रीन जोन में रखा गया है। इन जोन के हिसाब से ही जिलों को 20 अप्रैल के बाद लॉकडाउन में रियायत दी जाएगी।अब हरिद्वार भी  इसी  श्रेणी में आ गया है। 20 अप्रैल के बाद भी यहां लॉकडाउन की व्यवस्था पूर्ववत ही जारी रहेगी।
अब उत्तराखंड में देहरादून,नैनीताल , और हरिद्वार 3  रेड ज़ोन जिले हो गए है.  

 उत्तराखंड में कोरोना वायरस सैम्पलों की जांच बढ़ने के साथ ही संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। शनिवार को हरिद्वार में दो और कोरोना संक्रमित केस मिलते ही जिले को रेड जोन घोषित कर दिया गया। 

हरिद्वार जनपद में महिला और मजदूर में शनिवार को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। संक्रमित मजदूर हाथरस का रहने वाला है जबकि महिला जमाती  के दोस्त की पत्नी है। इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना संक्रमण मामलों की संख्या 42 हो गई है।

 अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर ने बताया कि शनिवार को हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज और ऋषिकेश एम्स तथा निजी पैथोलॉजी लैब से 276 सैंपल की रिपोर्ट मिली। इनमे हरिद्वार जनपद में महिला और मजदूर की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इसीके साथ मजदूर व महिला के संपर्क में आने वाले लोगों को चिन्हित किया जा रहा है।उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में अब तक कुल कोरोना संक्रमित मामलो में से 80% पॉजिटिव केस देहरादून ,नैनीताल और हरिद्वार जनपद से आये है। 

वही देहरादून के बाद अब नैनीताल और हरिद्वार जनपद को रेड जोन घोषित किया गया है। जबकि ऊधमसिंह नगर,अल्मोड़ा और पौड़ी जनपद को औरेंज जोन में शामिल किया गया है। अन्य 7 जनपदो में कोरोना वायरस संक्रमित का कोई मामला नहीं आने से अभी तक ग्रीन जोन में शामिल है।

Post a comment

Powered by Blogger.