Halloween party ideas 2015

कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन प्रदेश की कैंसर रोकथाम एवं जागरूकता के लिए  कार्य करने वाली अग्रणी संस्था हैं जो की हर महीने महिला स्वास्थय और महिलाओं को होने वाले कैंसर की रोकथाम के लिए महिलाओं का निःशुल्क परिक्षण कर रही हैं।

विश्व कैंसर दिवस पर अनोखी पहल - छात्राओं ने माँ के संग जाने कैंसर रोकथाम के सरल उपाय 

देहरादून :  
 
 

विश्व कैंसर दिवस के अवसर पर कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा श्री सनातन धर्म कन्या इण्टर कॉलेज, गीता भवन की छात्राओं एवं उनकी माताओं के लिए "मेरी माँ स्वस्थ माँ"  कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में डॉ सुमिता प्रभाकर द्वारा छात्राओं, उनकी माताओं और विद्यालय के स्टाफ को कैंसर रोकथाम एवं महिला स्वास्थय की जानकारी गयी एवं "मेरी माँ स्वस्थ माँ" किताब भी वितरित की  की गयी। स्वास्थ चर्चा के उपरांत स्तन एवं कैंसर रोकथाम शिविर का आयोजन किया गया । शिविर में ७४ महिलाओं की निःशुल्क जाँच की गयी एवं 300 छात्रों और अभिवावको को कैंसर के  प्रति जागरूक किया गया ।

कार्यक्रम का शुभारम्भ श्री सनातन धर्म सभा गीता भवन के प्रधान राकेश ओबेरॉय, डॉ सुमिता प्रभाकर, डॉ विनीता, विद्यालय की प्रधानाचार्या धर्मी मिश्रा एवं कार्यक्रम संयोजिका इंदु दत्ता द्वारा द्धीप प्रज्वलित कर किया गया।  कार्यक्रम में ऑडियो विसुअल प्रेजेंटेशन के माधयम से डॉ सुमिता प्रभाकर द्वारा बताया गया कि  कैसे महिलाएं अपने स्वास्थय की देखभाल कर सकती है और कैंसर के प्रति जागरूक रहते हुए कैंसर के खतरे को कम कर सकती हैं। कार्यक्रम में स्तन एवं सर्वाइकल कैंसर, स्वयं स्तन परिक्षण, बच्चो के स्वास्थय की जानकारी एवं माहवारी स्वछता की विस्तृत जानकारी दी गयी। कार्यक्रम में छात्राएं और माँ एक साथ कैंसर जैसे विषय की जानकारी प्राप्त की जो अपने आप में अनोखी पहल रही।

डॉ सुमिता ने बताया की मेरी माँ स्वस्थ माँ कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा किया गया था और इस कार्यक्रम के अंतर्गत अब तक कई सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया हैं। इस कार्यक्रम में कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की मेडिकल टीम द्वारा छात्र एवं छात्राओं को उनके माँ के स्वास्थ देखभाल और कैंसर रोकथाम के सरल उपाय और लक्षणों की जानकारी दी जाती हैं। बच्चो को उनकी माँ के प्रति जागरूक करना और उनको कैंसर के प्रति शिक्षित करना अपने आप में एक अनोखी पहल हैं।  कार्यक्रम का उद्देश्य आने वाली पीढ़ी को कैंसर के प्रति अभी से जागरूक बनाना हैं।  सफल कार्यक्रम आयोजन के लिए डॉ सुमिता द्वारा विद्यालय प्रशासन का धन्यवाद किया गया।

कार्यक्रम में धर्मी मिश्रा, इंदु दत्ता, डॉ  विनीता, निर्मला राणा, वैशाली, स्कूल की अध्यापिकाएं, अभिवावक उपस्थित रहे।


कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन ने टिहरी गढ़वाल, फकोट के न्योर गाँव में आयोजित किया कैंसर रोकथाम शिविर 
 
टिहरी गढ़वाल   : विश्व कैंसर दिवस पर कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा  उत्तराखंड के पहाड़ी इलाको में  महिलाओं को कैंसर से बचाव के लिए टिहरी गढ़वाल जिले के फकोट स्थित न्योर और मलास गाँव में निःशुल्क महिला स्वास्थय शिविर का आयोजन किया। शिविर का आयोजन कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन और स्व. अनिल कोठियाल स्मृति न्यास के संयुक्त तत्वावधान में किया गया जिसका मुख्य उदेश्य स्तन एवं गर्भाशय ग्रीवा कैंसर की रोकथाम रहा। वरिष्ठ महिला रोग विशेषज्ञा डॉ सुमिता प्रभाकर द्वारा महिलाओं की जाँच एवं उपचार किया गया। शिविर में कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन की मेडिकल टीम द्वारा महिलाओं और किशोरियों की एनीमिया, ब्ल्ड शुगर, स्तन एवं गर्भाशय ग्रीवा कैंसर की रोकथाम के लिए जाँच की गयी। शिविर में रोगियों को  निशुल्क दवा भी वितरित की गयी।  इस शिविर में  नौर, बसुई, क्यारी, ताछला और ओडारखेत आदि गांवों की 270 महिलाओं को लाभ हुआ। लगभग ६०% महिलाओं में खून की कमी पायी गयी एवं स्तन जाँच में कुछ महिलाओं असामान्य लक्षण पाए गए जिनको आगे की जांच के बारे में बताया गया।  

शिविर के शुभारम्भ टिहरी गढ़वाल जिले के जिला अधिकारी वी षणमुगम एवं नरेंद्र नगर की एस डी एम युक्ता मिश्रा द्वारा डॉ सुमिता प्रभाकर, डॉ प्रीती कोठियाल, ब्लॉक प्रमुख, ग्राम प्रधान न्योर, मलास, ताछला की उपस्थिति में किया गया। शिविर के आयोजन में डॉ प्रीती कोठियाल ने अहम भूमिका रही। इस अवसर पर कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा स्वयं स्तन परिक्षण के लिए गढ़वाली भाषा में बनायीं गयी शिक्षण सामग्री का विमोचन जिला अधिकारी वी षणमुगम द्वारा किया गया।
इस मौके पर टिहरी गढ़वाल जिले के जिला अधिकारी वी षणमुगम ने डॉ सुमिता प्रभाकर को शिविर के लिए देहरादून से न्योर आने के लिए धन्यवाद दिया एवं कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा पहाड़ी इलाको में कैंसर रोकथाम और महिला स्वास्थय के लिए किये जा रहे कार्यो की सराहना की।

डॉ सुमिता प्रभाकर ने बताया की स्वयं स्तन परिक्षण एक ऐसा परिक्षण है जिसे महिलाएं आसानी से हर माह अपने घर पर कर सकती है।  इस परिक्षण में महिलाओं को कोई खर्च नहीं आता हैं और पहाड़ी परिदृश्य में यह परिक्षण स्तन कैंसर रोकथाम के लिए एक बहुत अच्छा उपाय हैं। कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा लगाये जाने वाले हर शिविर में उनकी एक टीम महिलाओं की स्वयं स्तन परिक्षण की विस्तृत जानकारी दी जाती है । विश्व कैंसर दिवस पर कैन प्रोटेक्ट फाउंडेशन द्वारा फरवरी के प्रथम सप्ताह कैंसर मरीजों की पहचान एवं उन्हें बेहतर सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से देहरादून के सी एम आई अस्पताल में  निशुल्क जांच शिविर का आयोजन किया जा रहा हैं जिसका संस्था द्वारा निःशुल्क थर्मो मैमोग्राफी एवं कॉल्पोस्कोपी की सुविधा प्रदान की जा रही हैं ।

इस अवसर पर ताछला की ग्राम प्रधान ने बताया की उनके गाँव में पहली बार स्वास्थय शिविर का आयोजन किया जा रहा हैं और इसका फायदा महिलाओं को हो रहा हैं। शिविर में श्री लेखराज प्रभाकर, डॉ रेखा खन्ना, डॉ प्रीती कोठियाल, डॉ दीपिका राणा, मधुकांत कौशिक, ललित आनंद, ऋतू आनंद, समीर  एवं इन्डीकेमी के दीपिका एवं सुरेंद्र जुनेजा उपस्थित रहे।

Post a comment

Powered by Blogger.