Halloween party ideas 2015

रूद्रप्रयाग :

भूपेन्द्र भण्डारी



 ऊर्जा निगम की मनमानी को लेकर अब स्थानीय लोगों समेत यूथ कांग्रेस मुखर हो गया है। ऊर्जा निगम के खिलाफ अब लोगों ने विरोध का नायाब तरीक अपनाया  है। रूद्रप्रयाग में अलकनंदा और मंदाकिनी नदी के संगम पर विद्युत विभाग द्वारा 19 लाख रूपये की लागत से रात्रि रिवरव्यू योजना का निर्माण किया गया। लेकिन विभाग द्वारा योजना को नदी की सतह पर बना दिया, योजना के तहत बिजली  के पोलो को बिल्कुल नदी के तह में गाड़ दिए गए। जिससे बरसात के समय नदी के जलस्तर बढ़ने के साथ ही इस योजना के बह जाने की पूरी संभावनाएं  हैं।

स्थानीय लोगों द्वारा इस योजना पर शुरूआत से ही सवाल खड़े कर दिया था लेकिन विभाग है कि मनमानी करने पर तुला है। ऐसे में यूथ कांग्रेस और स्थानीय लोगों ने विद्युत विभाग की बुद्धि-शुद्धि यज्ञ कर भगवान से विभाग की सद्बुद्धि की कामना की।

उधर इस मामले में जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने विद्युत विभाग को निर्देशित किया था  िकवे इस योजना को मानकों के अनुरूप बनायें लेकिन ऊर्जा निगम के अधिकारी इतने अभ्यस्त हैं कि वे जिलाधिकारी के निर्देशाों को धत्ता बताकर लाखों रूपये पानी में डुबोने के लिए खर्च कर दिए। यूथ कांग्रेस ने अब प्रभारी जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर इस योजना को तत्काल प्रभाव से ठीक करने की के साथ दोषी अधिकारियों पर कठोर कार्यावाही की मांग भी की गई।

 दरअसल संगम  पर बनाई गई रात्रि रिवरव्यू योजना का उद्देश्य यह था कि अलगनंदा और मंदाकिनी का संगम रात के समय भी रोशनी से जगमग रहे और यहां आने वाले तीर्थ यात्रियों को इसका लाभ मिले लेकिन योजनाकारों की लापरवाही ने इस योजना को जल्दी ही बर्बाद करने की ठान ली। ऐसे में देखना होगा कि आने वाले समय में इसमें सुधार होता  या  फिर  लोग ऊर्जा निगम के खिलाफ सड़कों पर उग्र होते हैं।

Post a comment

Powered by Blogger.