Halloween party ideas 2015

 उत्तरकाशी जनपद के मोरी तहसील में एक दलित नौजवान आयुष के साथ जो मारपीट की गई उसकी  निंदा करते हुए स्वामी दर्शन भारती का कहना  हैं कि द ऐसा नहीं होना चाहिए ।परंतु साथ साथ में यह भी कहना चाहते हैं कि  सहारनपुर के तथाकथित भीम आर्मी जो कि वास्तव में भीम आर्मी टाइगर के तथाकथित नेता   नेता मजीत सिंह  है,उनके द्वारा क्षेत्र के लोगों को आतंकित करना और साथ साथ अधिकारियों  को धमकाना ,उनके सामने यह कहना हम 2 घंटे में बुलडोजर से मंदिर को ध्वस्त कर देंगे, अत्यधिक भारी पड़ेगा।



 उत्तराखंड में सरकारी एजेंसी इस विषय की तरफ गंभीरता से देखें जोशीमठ हिंदू सनातन संस्कृति का हिमालय में बहुत बड़ा आस्था का केंद्र है।

उत्तराखंड एक देवभूमि है जहां सभी सनातनी को जाति पाँति से हटकर समान देखा जाता है, परन्तु ऐसे स्वयंभू नेता समझ लें, अपने क्रिया कलापों से उत्तराखंड की भूमि पर आतंक फैलाने का कार्य न करे। कानून और अधिकारियों को अपना काम करने दे।

साथ ही स्वामी दर्शन भारती का कहना है कि हिंदू धर्म सनातन के उद्गम स्थल देवभूमि उत्तराखंड वासियों जोशीमठ में आपदा की आड इस्लामिक जिहादी सक्रिय यहां तक की जमयाते इस्लामिक हिंद के राष्ट्रीय सचिव मोहम्मद अकरम दिल्ली से आकर जोशीमठ में एक संगठन को चेक एवं नगद धनराशि देकर आंदोलन को तेज करने की बात कर रहे हैं.

 अपने अधिकारों के लिए आंदोलन करना चाहिए ।जोशीमठ के अस्तित्व को बचाने के लिए संघर्षशील जनता को प्रणाम करता हूं।परंतु जिहादियों से सहयोग लेकर कौन लोग देवभूमि की अनंत अनादि सनातन संस्कृति को नुकसान पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं।

 जोशीमठ अंतरराष्ट्रीय सीमा चीन से बहुत नजदीक लगता पहाड़ी क्षेत्र है जिहादियों का क्षेत्र में इस तरह से यहां के स्थानीय लोगों के बीच घुसपैठ राष्ट्र सुरक्षा के लिए भी एक चिंता का विषय है ।

जहां तक मेरा विषय है कोई भी उत्तराखंड वासी जोशीमठ को बचाने के लिए जिहादियों से कोई सहयोग नहीं लेगा।

आपको बता दें कि तथाकथित खुद को भीम आर्मी का नेता कहलाने वाले ये व्यक्ति प्रेस  क्लब में मीडिया से मुखातिब होने आए तो लाव लश्कर के साथ साथ सायरन भी बजाते आये।

उक्त कृत्यों पर इनके ऊपर 154A में मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। सवाल यह उठता है कि ऐसे उठाये गिरी नेता उत्तराखंड में किस प्रकार पुलिस को धत्ता बताकर ,अधिकारियों को डांट डपट कर चले जाते है और गांववालों के साथ अभद्र, असम्मान भाषा मे बीआत कर  कैसे चले जाते है?





Post a Comment

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved
Powered by Blogger.