Halloween party ideas 2015

 उत्तरकाशी : 





जिला कांग्रेस कमेटी उत्तरकाशी के बैनर तले पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण के नेतृत्व में कांग्रेसजनों ने आज uksssc पेपर लीक भर्ती घोटाले एवं सहकारिता बिभाग, फॉरेस्ट गार्ड सहित अन्य सभी भर्ती घोटालो पर राज्यपाल से सीबीआई जांच करवाने की मांग की है।


पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत तमाम कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक के नेतृत्व मे बस अड्डे पर उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग और सरकार का पुतला दहन किया, तत्पश्चात जुलुस के रूप मे कलक्ट्रेट परिसर पहुंचे जहाँ उन्होंने जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित किया एवं मांग की कि विगत समय उत्तराखंड में uksssc की परीक्षाओं में पेपर लीक करवा कर भारी धनराशि लेकर अभ्यर्थियों को नौकरी दिलवाई गई है। इस प्रकरण में राजनेताओं व अधिकारियों के फोटो सोशल मीडिया पर फर्जीवाडे के आरोपी हाकम सिंह के साथ नजर आ रहे हैं, साथ ही मामले के तार पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश से भी जुड़े होने के कारण निष्पक्ष जांच होना सम्भव नहीं है। साथ ही विगत दिनों उत्तराखंड में फॉरेस्ट गार्ड और सहकारिता विभाग के अन्तर्गत जिला सहकारी बैंकों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती में भी भ्रष्टाचार के समाचार सोशल मीडिया एवं मीडिया में छपते रहे हैं जिसमें सत्ता पक्ष के जिम्मेदार लोगों का संरक्षण प्राप्त होता प्रतीत हो रहा है। इसलिए उत्तराखंड राज्य की छवि को दृष्टिगत रखते हुए तथा बेरोजगारों को भरोसा दिलाने एवं कानून का राज स्थापित करने के लिए उक्त सभी प्रकरणों की जांच सीबीआई एवं हाईकोर्ट के जज से करवाई जाए, ताकि भ्रष्टाचार करने वालों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जा सके।

पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने कहा कि चाहे वीडियो-वीपीडीओ एवं अन्य भर्तियां हो इन सब में मोटी रकम लेकर अभ्यर्थियों को भर्ती दिलवाने के मामले प्रकाश में आ रहे हैं। यह बेरोजगारों के साथ बहुत बड़ा धोखा है इसलिए इन तमाम भर्तियों की सीबीआई जांच होना अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हम STF पर सवाल नहीं उठा रहे बल्कि राज्य स्तरीय एजेंसी इस जांच को निष्पक्ष रूप से नहीं कर सकती है क्योंकि इसमें सरकार के प्रमुख पदों पर बैठे राजनेताओं एवं अधिकारियों की ओर शक की सुई जा रही है। यदि इन घोटालों की जड़ तक जाना है और बड़े मगरमच्छों तक पहुंचना है तो इसकी सीबीआई जांच करवाना नितांत आवश्यक है।



इसके अलावा केंद्र सरकार द्वारा संचालित अग्निवीर सेना भर्ती योजना के तहत कोटद्वार मे गतिमान अग्निवीर भर्ती मे प्रदेश के युवाओं को हो रही व्यवहारिक कठिनाइयों के सम्बन्ध मे महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित किया गया। जिसमे भर्ती के दौरान शारीरिक परीक्षा मे ही अनेक प्रकार की बिसंगतियां बरतें जाने का जिक्र किया गया, ज्ञापन के माध्यम से बताया गया कि भर्ती मे 300 युवाओं को एक साथ दौड़ाया जा रहा है जिसमे से मात्र 8 या 10 युवाओं को ही चुना जा रहा है जबकि पूर्व मे संचालित सेना भर्ती मे औसतन 300 मे से 60 प्रतिभागियों का चयन किया जाता रहा है। इसके अलवा 1600 मीटर की दौड़ के लिए 5:40 सेकंड निर्धारित है जबकि यहाँ सिर्फ 5 मिनट मे ही दौड़ को समाप्त किया जा रहा है, पार्वतीय क्षेत्रों के युवाओं के लिए लम्बाई मे मिली छूट का भी अनुपालन नहीं किया जा रहा है, 163 सेंटिमीटर के मानक के विपरीत लम्बाई 170 सेंटिमीटर पर ही चयन किया जा रहा है, इस प्रकार की विसंगतियों के चलते जो युवा पुरी तैयारी और जूनून के साथ भर्ती होने पहुंचे थे उन्हे निराश होकर घर लौटना पड़ रहा। कांग्रेस जिलाध्यक्ष जगमोहन रावत ने कहा कि ये उत्तराखंड के लिए हास्यास्पद एवं बिडंबना ही है कि राज्य के वरिष्ठ क़ाबीना मंत्री सतपाल महाराज जी भी इस भर्ती प्रक्रिया पर सवाल उठा रहे है। अग्निवीर भर्ती प्रक्रिया मे हो रही बिसंगतियों पर ज्ञापन के माध्यम से मांग की गयी है कि भर्ती प्रक्रिया को पूर्व मे निर्धारित मानकों की भांति ही संचालित किया जाए।



ज्ञापन प्रेषित करने वालों में कांग्रेस जिलाध्यक्ष जगमोहन रावत, पूर्व राज्यमंत्री घनानंद नौटियाल, पूर्व जिलाध्यक्ष नत्थी लाल शाह,  शहर अध्यक्ष दिनेश गौड़,  ब्लॉक अध्यक्ष कमल सिंह, दिनेश चौहान, महिला कांग्रेस अध्यक्ष मीना नौटियाल, जिला पंचायत सदस्य मनोज मिनान, मनीष राणा, प्रदीप कैंतुरा, पालिका सभाषद बुद्धि सिंह राणा, देवराज बिष्ट, अजीत गुसाईं, सविता भट्ट, कविता जोगेला, मनोज शाह, भूपेश कुड़ियाल, पपेंद्र नेगी, दिवाकर भट्ट, कल्पना ठाकुर, जगमोहन राज, खेमराज राणा, जग्गनाथ भट्ट, हरि सिंह राणा, युवा नेता अमरीकन पुरी, मुकेश रावत, आकाश भट्ट, संदीप राणा, पूर्व सैनिक सुरेश कुमार, रविंद्र राणा आदि शामिल थे।

Post a Comment

Powered by Blogger.