Halloween party ideas 2015

 

उत्तरकाशी:



यातायात निरीक्षक टीम नें उत्तरकाशी से 12 किलो मीटर दूर नाकुरी डूंडा के पास चारधाम यात्रियों की मुश्लिम ड्राइवर से कहासुनी का संज्ञान लेते हुए राजेन्द्र नाथ साथी कर्मचारी कनि0 राजेश उनियाल व चालक शिवमंगल सिंह के साथ यातायात व्यवस्था ड्यूटी पर दोनों पक्षों का पक्ष सुन मित्र पुलिस का फर्ज निभाकर तीर्थ-यात्रियों के लिए देवदूत साबित हुए।  


यात्रियों नें बताया गया कि हम ऋषिकेश से चारधाम यात्रा पर निकले हैं गाड़ी पर भजन-कीर्तन व यमुना-गंगा माँ के जयकारे से वह विछिप्त मुश्लिम ड्राइवर परेशान हुआ और हमसे कहा कि बार-बार जय गंगे क्या कर रहे हो, चुपचाप बैठे रहकर यात्रा करो नहीं तो गाड़ी से नीचे नदी में फेंक देंनें की धमकी दी। 

जीवन बहुमुल्य है सभी यात्री उस ड्राइवर के साथ यात्रा करनें से मना कर गए यात्रियों के किसी परिचित आर.टी.ओ नें उत्तरकाशी प्रशासन से संपर्क कर लद्दाख जैसा हादसा होंनें से टलवा दिया। 

यातायात पुलिस टीम जवानों के काफी समझाने पर भी यात्री नहीं मानें तो जवानों ने स्वयं के प्रयासों से तीर्थयात्रियों के बस के लिये एक ड्राइवर की व्यवस्था कर उनको गंतव्य के लिये रवाना किया। 

लेकिन देवभूमि उत्तराखंड की मित्र पुलिस व चारधाम यात्रा नें लदाख जैसी घटना होंनें से बचाते हुए प्रदेश ही नहीं बल्कि देश की ट्रैवल्स कम्पनियों की पोल-खोल ट्रैवल्स कम्पनियों की यात्रियों के प्रति सुरक्षा पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया।

सभी श्रद्धालु बहुत खुश हुए उनके द्वारा मित्र पुलिस के जवानों का आभार प्रकट किया गया।

Post a Comment

Powered by Blogger.