Halloween party ideas 2015


ऋषिकेश :  




श्रमिकों के लिये बनी ईएसआई योजना का हाल भी अजब गजब है । पूरा मामला लालतप्पड़ औद्योगिक क्षेत्र के विभिन्न प्राईवेट कम्पनी में कार्यरत श्रमिकों को कर्मचारी राज्य बीमा (ईएसआई) का  कैश लैस लाभ नहीं मिल पा रहा है। जबकि यहां के औद्योगिक प्रतिष्ठानों में कई वर्षों से कार्यरत सैकड़ों कर्मचारी लगातार ईएसआई का प्रीमियम जमा कर रहे हैं। 

श्रमिकों का कहना है कि लालतप्पड़ के आसपास ऋषिकेश व डोईवाला क्षेत्र के अस्पताल पैनल में न होने की वजह से यह दिक्कत आ रही है। लालतप्पड़ निवासी एक कंपनी में कार्यरत मनीष ने बताया कि क्षेत्र में कई बड़े अस्पताल हैं, लेकिन ईएसआई की ओर से इनसे कोई टाइअप नहीं किया गया है।  जिससे बीमा की राशि जमा करने के बावजूद श्रमिकों को चिकित्सा सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में वह निजी खर्चे पर इलाज कराने को मजबूर हैं। एक अन्य कम्पनी में काम करने वाले छिद्दरवाला निवासी सूरज रावत ने बताया कि उनके वेतन से ईएसआई का पैसा कटता है, लेकिन इसका कोई लाभ नहीं मिल रहा। उनको पिता के हार्ट आपरेशन के लिए कर्ज लेना पड़ा। जोगीवालामाफी निवासी रवि तोपवाल बताते हैं कि लालतप्पड़ क्षेत्र में 10 हजार से अधिक कर्मचारी काम करते हैं, क्षेत्र का कोई भी ऐसा अस्पताल नहीं है जो ईएसआई के पैनल में शामिल हो, यही वजह है कि स्थानीय श्रमिकों को क्षेत्र के अस्पतालों में कैशलेश इलाज की सुविधा नहीं मिल पा रही है।


यह है ईएसआई योजना : कम आय वाले कर्मचारियों पर इलाज के खर्च का बोझ न पड़े और कोई अनहोनी होने की परिवार की मदद हो सके इसके लिए केंद्रीय श्रम मंत्रालय कर्मचारी राज्य बीमा (ईएसआई) योजना चलाता है। इसका फायदा निजी कंपनियों, फैक्ट्रियों और कारखानों में काम करने वाले कर्मचारियों को मिलता है। यह कर्मचारी राज्य बीमा अधिनियम के तहत सामाजिक सुरक्षा बीमा का उपाय है जो कि कर्मचारियों को बीमारी, मातृत्व लाभ, विकलांगता और रोजगार के दौरान चोट के कारण मृत्यु की घटना से कवरेज देती है।



Post a Comment

Powered by Blogger.