Halloween party ideas 2015

 हरिद्वार:

Makar sakranti snan 2022 haridwar

DM and SSP inspects at har ki pauri on makar sakranti


जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डाॅ0 योगेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुये मकर संक्रान्ति स्नान पर्व पर रोक के चलते हरकीपैड़ी सहित विभिन्न घाटों का आकस्मिक निरीक्षण किया।

जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने सर्व प्रथम पुलिस चैकी होते हुये हरकीपैड़ी के पूरे क्षेत्र का निरीक्षण किया। इस दौरान हरकीपैड़ी के सभी घाटों में एक भी श्रद्धालु नहीं दिखाई दे रहा था।
 इसके पश्चात जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरकीपैड़ी क्षेत्र से सुभाष घाट पहुंचे, जहां पर कुछ स्थानीय लोग स्नान कर रहे थे। इस पर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो श्रद्धालु स्नान करने यहां पर आये हुये हैं, उन्हें लाउडस्पीकर के माध्यम से सूचित करते हुये, इस घाट को भी जल्द से जल्द खाली कराया जाय ताकि कोरोना का संक्रमण कम से कम हो सके।

इस मौके पर पत्रकारों से वार्ता करते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि पहले मकर संक्रान्ति के अवसर पर लाखों की भीड़ होती थी, लेकिन इस बार जिस तरह से कोविड का प्रसार हो रहा है, उसे देखते हुये  काफी सोच-विचार करने के बाद मकर संक्रान्ति के पर्व पर रोक का निर्णय लिया गया। 

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से इस बार काफी सख्ती बरतते हुये स्नान को प्रतिबन्धित किया गया है। उन्होंने कहा कि हमारा मुख्य उद्देश्य यह था कि बाहरी जनपदों, खासतौर पश्चिमी यूपी, हरियाणा आदि से लोग आते हैं और बाहरी लोगों से यहां पर संक्रमण न फैले, इसको भी ध्यान में रखा गया, क्योंकि पाॅजिविटी रेट हर जगह बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि भीड़ की दृष्टि से हरकीपैड़ी क्षेत्र हमारा काफी संवेदनशील क्षेत्र है।

निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी(वित्त एवं राजस्व) श्री वीर सिंह बुदियाल, सिटी मजिस्ट्रेट श्री अवधेश कुमार सिंह, खाद्य एवं पूर्ति अधिकारी श्री के0के0 अग्रवाल सहित पुलिस तथा प्रशासन के अधिकारीगण उपस्थित थे।
....................

Post a Comment

Powered by Blogger.