Halloween party ideas 2015

मुख्यमंत्री ने लक्ष्य सेन को प्रदान की 15 लाख की धनराशि।

नई खेल नीति में खिलाड़ियों को हर संभव सुविधा देने के किए गये हैं प्रयास

राज्य में की जायेगी महाराणा प्रताप खेल विश्वविद्यालय की स्थापना।


Lakshy sen badminton player of India honoured by CM Uttarakhand

 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास स्थित मुख्य सेवक भेंट कक्ष में भारत के बैटमिंटन खिलाड़ी श्री लक्ष्य सेन को सम्मानित कर उन्हें 15 लाख की धनराशि का चेक भेंट किया। मुख्यमंत्री ने लक्ष्य सेन के माता पिता को भी इस अवसर पर सम्मानित किया।


          मुख्यमंत्री ने कहा कि लक्ष्य सेन ने विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में पदक जीतकर देश एवं प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होंने कहा कि लक्ष्य सेन आगामी विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर देश व प्रदेश का नाम रोशन करें तथा लक्ष्य सेन उस लक्ष्य को प्राप्त करें इसकी हम सब कामना करते हैं।


          मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा खेलों एवं खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए खेल नीति-2021 लागू की गई है। राज्य में महाराणा प्रताप खेल विश्वविद्यालय की स्थापना की जायेगी ताकि अधिक से अधिक युवा खेलों से जुड़ सकें। खेल नीति में खिलाड़ियों के उन्नयन, खेल प्रतिभाओं को तलाशने, निखारने व उभारने, खेलों के प्रति रुचि बढ़ाने, खिलाड़ियों के नियोजन, सामान्य आहार के साथ-साथ बेहतर डाइट की व्यवस्था, खिलाड़ियों के लिए रोज़गार के अवसर तथा सम्बंधित पूर्ण सुविधाएं प्रदान करने का प्रावधान किया गया है। युवाओं में राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतिभाओं को विकसित करने के लिए उचित आर्थिक प्रोत्साहन का प्रावधान किया गया है।  राज्य के हर ग्राम पंचायत में ’’स्वस्थ युवा स्वस्थ उत्तराखंड’’ योजना के अन्तर्गत ओपन जिम खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।


          मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि खिलाड़ियों का दैनिक भत्ता बढ़ाने के साथ ही महिला खिलाड़ियों के खेल कौशल विकास हेतु जनपद उधमसिंह नगर में महिला स्पोर्ट्स कॉलेज स्थापित किया जाएगा। नेशनल गेम्स में प्रतिभाग करने वाले खिलाड़ियों को उत्तराखंड राज्य परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा सुविधा प्रदान की जाएगी। महाविद्यालयों, व्यवसायिक पाठ्यक्रमों में प्रवेश हेतु 5 प्रतिशत का उत्कृष्ट खिलाड़ी खेल कोटा प्रदान करने, नेशनल गेम्स के पदक विजेताओं को भी एशियन, कामनवेल्थ, वर्ल्ड, ओलंपिक पदक विजेताओं की भांति सरकारी सेवा प्रदान की जायेगी। मुख्यमंत्री ने खिलाड़ियों का आहवान किया कि उन्हें अपनी मेहनत, मनोयोग एवं संकल्प के साथ मैदान में जीतकर आसमान छूने के लिये प्रयत्नशील बनना होगा।


         इस अवसर पर विधायक श्री शक्ति लाल शाह, पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार, निदेशक खेल श्री जी.एस. रावत, संयुक्त निदेशक डॉ. धर्मेंद्र भट्ट, श्रीमती अलकनन्दा अशोक, लक्ष्यसेन के पिता श्री डी.के.सेन, माता श्रीमती मंजू सेन के साथ ही खिलाड़ी एवं खेल से जुड़े लोग उपस्थित थे।


मुख्यमंत्री ने की उद्योग एवं व्यापार से जुड़े लोगों से भेंट।



मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को उत्तराखण्ड अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष डॉ. आर के जैन के कर्जन रोड़ स्थित आवास पर आयोजित कार्यक्रम में विभिन्न औद्योगिक संस्थानों के प्रतिनिधियों, व्यापार से जुड़े लोगों, होटल व्यवसाइयों से भेंट करते हुए कहा कि भविष्य में राज्य में और अधिक उद्योग स्थापित हों इसके लिये हमारे उद्यमी ही हमारे ब्राण्ड एम्बेसडर हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में देश-विदेश से उद्योगपति आये इसमें हमारे उद्यमियों की महत्वपूर्ण भूमिका है। राज्य का वातावरण पूर्णतः उद्योगों के अनुकूल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्पूर्ण देश में भी यह संदेश जाना चाहिए कि उत्तराखंड में उद्योगों के लिए अनुकूल माहौल है। उन्होंने कहा कि सरकार और उद्यमियों के मध्य लगातार संवाद बनाये रखने का प्रयास किया जा रहा है। उद्यमियों की सुविधा के लिये पूर्व मुख्य सचिव श्री शत्रुघ्न सिंह की अध्यक्षता में वन टाइम सेटलमेंट के लिए समिति बनाई गयी है।


        मुख्यमंत्री ने कहा उद्यमियों की संतुष्टि का हमारा प्रयास है। उत्तराखंड में जितने भी उद्योग स्थापित हुए है, उनकी समस्याओं को दूर कर उन्हें विकास और ग्रोथ के हर अवसर दिए जाएँगे। उन्होंने कहा कि आने वाले 10 सालों में उद्योग के क्षेत्र में उत्तराखंड देश का नंबर वन राज्य बने, इसके लिये हम प्रयासरत हैं। इसमें उद्योगों को भी सहयोगी बनना होगा। राज्य सरकार सभी के सहयोग के लिये है। अधिक से अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये भी बड़ी संख्या में उद्योगों की स्थापना जरूरी है। राज्य में उद्योगों की बेहतरी के लिये ऊर्जा, चिकित्सा, परिवहन, राजस्व, वन आदि विभागों को आपसी समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिये गये हैं, इसके लिये संगल विंडो सिस्टम को प्रभावी बनाया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में अधिक से अधिक उद्योग स्थापित हों तथा जो उद्योग स्थापित हैं वे सही तरीके से चलें इसके लिये हम निरंतर प्रयासरत हैं।


              मुख्यमंत्री ने कहा की प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी हमेशा उत्तराखण्ड के विकास को प्राथमिकता देते हैं। आज उत्तराखंड में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। परिवहन, कनेक्टिविटी और इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में उत्तराखंड में तेजी से काम हो रहा है।


           विभिन्न औद्योगिक संस्थानों के प्रतिनिधियों, व्यापार से जुड़े लोगों, होटल व्यवसाइयों द्वारा उद्योगों के लिये प्रदेश में अनुकूल वातावरण, उद्यमियों, व्यापारियों आदि की समस्याओं के समाधान के लिये मुख्यमंत्री द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना की तथा उनका आभार भी जताया।


        इस अवसर पर श्री युद्धवीर सिंह, राकेश ऑबेराय, श्री अशोक विंडलास, श्री वी. के धवन, श्री सुनील जैन, श्री वीके गुप्ता, श्री पंकज मैसोन, श्री प्रवीण जैन, श्री मुकेश जैन, श्री विनीत अग्रवाल, डॉ. महेश कुड़ियाल आदि उपस्थित थे।


Post a Comment

Powered by Blogger.