Halloween party ideas 2015

 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं चिकित्सालय डोईवाला का अनुबंध निरस्त करने की मांग को लेकर प्रखंड क्रांति दल ने जन आक्रोश रैली निकाली उत्तराखंड के कार्यकर्ताओं के साथ डोईवाला के लोग बड़ी मात्रा में जन आक्रोश रैली में शामिल हुए।

UKd jan aakroshrally, doiwala


 अस्पताल परिसर से शुरू होकर जन आक्रोश रैली मुख्य बाजार तक आते-आते जुलूस की शक्ल में बदल गई और डोईवाला चौक पर एक सभा में तब्दील हो गई।


 वही आंदोलन के तीसरे दिन उत्तराखंड क्रांति दल के जिला अध्यक्ष संजय डोभाल आज दूसरे दिन भी आमरण अनशन पर बैठे रहे।


 जन आक्रोश रैली में उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकर्ता अस्पताल का एग्रीमेंट निरस्त करने की मांग को लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहे।


 डोईवाला चौक पर रैली को संबोधित करते हुए उत्तराखंड क्रांति दल के डोईवाला प्रभारी शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि हिमालयन अस्पताल प्रशासन ने अनुबंध में दी गई एक भी शर्त का पालन नहीं किया और अस्पताल को रेफरल सेंटर बना कर रख दिया।


 उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय संगठन मंत्री संजय बहुगुणा ने कहा कि यह अस्पताल काफी पुराना है। कभी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों मे यह सबसे अधिक ओपीडी वाला अस्पताल रहा है।


भाजपा नेता रामेश्वर पांडे ने कहा कि वह भाजपा में होने के बावजूद उत्तराखंड क्रांति दल द्वारा शुरू किए गए इस आंदोलन में इसलिए साथ हैं क्योंकि यह जनहित से जुड़ा हुआ मुद्दा है उन्होंने आम जनता को भी पार्टी गत मतभेद से ऊपर उठकर इस आंदोलन में शामिल होने के लिए आव्हान किया। रैली को उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय युवा मोर्चा अध्यक्ष राजेन्द्र बिष्ट, महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष सुलोचना ईष्टवाल, वार्ड अध्यक्ष पिंकी थपलियाल आदि ने भी संबोधित किया।


आज आंदोलन को उत्तराखंड किसान सभा के जाहिद अंजाम, शमशाद अली आदि ने भी आकर अपना समर्थन व्यक्त किया तथा आह्वान किया कि इस आंदोलन के बारे में गांव गांव गली गली में जन जागरूकता होनी चाहिए।


रैली मे जिला संगठन मंत्री दिनेश सेमवाल, आईटी सेल के जिलाध्यक्ष प्रशांत भट्ट, मंगल साहनी, मंजू देवी किरन देवी , सविता श्रीवास्तव, प्रवीन रमोला, श्याम रमोला अंकेश भंडारी, चंपा देवी, सरस्वती पैन्यूली, हेमलता सामान, सरोज आदि दर्जनों कार्यकर्ता तथा आम लोग शामिल थे।

Post a Comment

Powered by Blogger.