Halloween party ideas 2015


 देश के तीनों सेना के प्रमुख विपिन सिंह रावत नहीं रहे .एयरफोर्स ने आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि कर दी है-.

                                    


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने जनरल प्रमुख बिपिन रावत के असामयिक निधन पर शोक व्यक्त किया है.पीएम मोदी ने कहा है कि वे एक असाधारण योद्धा थे .उनके लिए मन बेहद दुखी है.

"तमिलनाडु में आज एक बेहद दुर्भाग्यपूर्ण हेलीकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य सशस्त्र बलों के जवानों के आकस्मिक निधन से गहरा दुख हुआ": रक्षा मंत्री @rajnathsingh

गृह मंत्री अमित शाह ने आईएएफ हेलिकॉप्टर दुर्घटना में सीडीएस जनरल बिपिन रावत और 12 अन्य के निधन पर शोक व्यक्त किया वे कहते हैं, "सीडीएस बिपिन  सबसे बहादुर सैनिकों में से एक थे, जिन्होंने पूरी निष्ठा के साथ मातृभूमि की सेवा की है। उनके अनुकरणीय योगदान और प्रतिबद्धता को शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है।"  

                                 


 


न्यूज़ एजेंसी ए एन आई के अनुसार कुछ समय पहले 14 लोगों में से 13 लोगों की मृत्यु की पुख्ता खबर आ रही थी. 

 सीडीएस जनरल विपिन सिंह रावत और उनकी पत्नी की मृत्यु की पुष्टि एयरपोर्ट द्वारा कर दी गई है गृहमंत्री राजनाथ सिंह इससे पहले विपिन सिंह रावत के घर पहुंचे और सेना प्रमुख नरवणे भी उनके घर पहुंचे.

सुबह से ही देशवासी उन की खबर जानने के लिए बेचैन थे और सभी के हृदय में इस हेलीकॉप्टर क्रैश की घटना को लेकर असमंजस की और दुख की स्थिति थी जो कि अब  स्पष्ट हो गई है.म्यांमार , कश्मीर, एलएसी और पीओके की समस्या को सुलझाने में सेना के आधुनिकीकरण में जनरल रावत की महत्वपूर्ण भूमिका थी .उनका जन्म 16 मार्च 1958 को हुआ था . सेना को संगठित करने में भी उनका महत्वपूर्ण रोल था .पौड़ी गढ़वाल उत्तराखंड के सेनज गांव में जन्मे जनरल बिपिन रावत की शहादत को देश भर में याद किया जा रहा है. श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है .

सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में घायल हुए भारतीय वायु सेना के ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह को इस साल के स्वतंत्रता दिवस पर 2020 में एक हवाई आपातकाल के दौरान अपने एलसीए तेजस लड़ाकू विमान को बचाने के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था।


कांग्रेस ने भी  दुःख जताते हुए कहा-

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के निधन से देश स्तब्ध और दुखी है। उनके परिवार और दोस्तों के प्रति हमारी हार्दिक संवेदना। दुख की इस घड़ी में हम देश के साथ खड़े हैं। वे चिरशांति को प्राप्त हों।

*सीडीएस जनरल बिपिन रावत के आकस्मिक निधन पर मुख्यमंत्री ने शोक व्यक्त किया*

*जनरल रावत के निधन को बताया देश व प्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति*

 मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने हेलीकाप्टर दुर्घटना में सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी श्रीमती मधुलिका रावत व अन्य अधिकारियों की  आकस्मिक मृत्यु पर गहरा दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्माओं की शान्ति तथा शोक संतप्त परिजनों को इस  दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है। 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने जरनल रावत के आकस्मिक निधन को देश के लिए अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा कि देश की सुरक्षा के लिए जनरल रावत ने महान योगदान दिया है। देश की सीमाओं की सुरक्षा एवं देश की रक्षा के लिए उनके द्वारा लिये गये साहसिक निर्णयों एवं सैन्य बलों के मनोबल को सदैव ऊंचा बनाये रखने के लिए उनके द्वारा दिये गये योगदान को देश सदैव याद रखेगा। 

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत की परवरिश उत्तराखण्ड के छोटे से गांव में हुई। वे अपनी विलक्षण प्रतिभा, परिश्रम तथा अदम्य साहस एवं शौर्य के बल पर सेना के सर्वोच्च पद पर आसीन हुए तथा देश की सुरक्षा व्यवस्थाओं एवं भारतीय सेना को नई दिशा दी। उनके आकस्मिक निधन से उत्तराखण्ड को भी बड़ी क्षति हुई है। हम सबको अपने इस महान सपूत पर सदैव गर्व रहेगा।

 
 


Post a Comment

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved

www.satyawani.com @ 2016 All rights reserved
Powered by Blogger.