Halloween party ideas 2015

 

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर उनका नमन किया है।

एक टवीट में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा;

"पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को उनकी जयंती पर शत-शत नमन। मूल्यों और सिद्धांतों पर आधारित उनका जीवन देशवासियों के लिए हमेशा प्रेरणास्रोत बना रहेगा।"

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने महात्मा गांधी को उनकी जयंती पर श्रद्धापूर्वक नमन किया।

अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा हैः

"राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी जन्म-जयंती पर विनम्र श्रद्धांजलि। पूज्य बापू का जीवन और आदर्श देश की हर पीढ़ी को कर्तव्य पथ पर चलने के लिए प्रेरित करता रहेगा।

मैं गांधी जयंती पर श्रद्धेय बापू को श्रद्धापूर्वक नमन करता हूं। उनके उच्च सिद्धांत पूरे विश्व में प्रासंगिक हैं और लाखों लोगों को उनसे सम्बल मिलता है।"

 

 मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी जयंती के अवसर पर  गांधी पार्क, देहरादून में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी  की मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।  मुख्यमंत्री ने कहा कि गांधी जी ने सत्य व अहिंसा के मार्ग पर चलने के लिए सबको प्रेरित किया। भारत को आजादी दिलाने के लिए उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें अपने आचरण में अहिंसा का भाव जागृत करने के साथ ही मानवता के प्रति करूणा का भाव पैदा करना होगा। यही हमारी उनके प्रति सच्ची श्रद्वांजलि होगी।इस अवसर पर केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन  राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने भी महात्मा गांधी की मूर्ति पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।


 मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु, अपर मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी, श्रीमती मनीषा पंवार, श्री आनंद वर्धन, प्रमुख सचिव, सचिवों सहित अन्य उच्चाधिकारियों एवं करचारियों ने शनिवार को सचिवालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के अवसर पर उनके चित्रों पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर राम धुन बजाई गई। मुख्य सचिव द्वारा इस अवसर पर सभी को मतदाता शपथ भी दिलाई गई।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को शहीद स्थल कचहरी में उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। 


  मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारियों के संघर्ष के परिणामस्वरूप ही हमें नया राज्य मिला। शहीद राज्य आन्दोलनकारियों के सपने के अनुरूप राज्य का विकास हो, इसके लिए सरकार प्रयासरत है। उत्तराखण्ड के समग्र विकास के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है। 




इस अवसर पर केन्द्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री श्री अजय भट्ट ने भी शहीद उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारियों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

SDRF वाहिनी मुख्यालय जॉलीग्रांट व राज्य में व्यवस्थित SDRF पोस्टों पर हर्षोल्लास के साथ मनाई गई राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व लाल बहादुर शास्त्री जयंती

आज 02 अक्टूबर 2021 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं  लाल बहादुर शास्त्री जी के जनमोत्सव पर SDRF वाहिनी जॉलीग्रांट में सेनानायक SDRF श्री नवनीत सिंह द्वारा उनके चित्रों का अनावरण कर माल्यार्पण किया व पुष्प अर्पित कर शत-शत नमन किया गया।  

 वहीं लाल बहादुर शास्त्री जी एक सच्चे देशभक्त थे, जिन्होंने स्वतंत्र भारत के दूसरे प्रधानमंत्री के रुप में काम किया। इसके साथ ही उन्होंने भारत के स्वाधीनता संग्राम में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया था। वह भारत के महत्वपूर्ण नेताओं मे से एक थे। जिन्होंने देश के स्वाधीनता के लिए लड़ाई लड़ी और औरो को भी इस संघर्ष में साथ आने के लिए प्रेरित किया। उनका जन्म 2 अक्टूबर 1904 को वाराणसी के समीप मुगलसराय में हुआ था। भारत में गहरी जड़ें जमाने वाली जाति-व्यवस्था का विरोध करते हुए, 12 वर्ष की आयु में, 1917 में, उन्होंने अपना उपनाम 'श्रीवास्तव' छोड़ दिया। स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद, उन्हें 'शास्त्री' की उपाधि दी गई, जिसका अर्थ है विद्वान। लगभग 20 वर्ष के ही आयु में वह स्वाधीनता आंदोलन में शामिल हो गये थे।लाल बहादुर शास्त्री के प्रधानमंत्री बनने  बाद 1965 में भारत पाकिस्तान का युद्ध हुआ जिसमें शास्त्री जी ने विषम परिस्थितियों में देश को संभाले रखा। सेना के जवानों और किसानों का महत्व बताने के लिए उन्होंने 'जय जवान जय किसान' का नारा भी दिया।




सेनानायक के उदबोधन के पश्चात समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों को आगामी विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 में SVEEP कार्यक्रम के अंतर्गत जनजागरूकता हेतु मतदाता शपथ दिलाई गई। सम्पूर्ण कार्यक्रम के दौरान वाहिनी मुख्यालय में सेनानायक श्री नवनीत सिंह, उपसेनानायक श्री अजय भट्ट, सहायक सेनानायक श्री कमल सिंह पंवार,श्री अनिल शर्मा, शिविरपाल   श्री राजीव रावत, निरीक्षक श्री प्रेम सिंह नेगी, श्री प्रमोद रावत, श्रीमती ललिता नेगी, सब इंस्पेक्टर श्री जयपाल राणा, श्री विजय प्रसाद, श्री मनीष कनोज्जिया ,श्री नीरज शर्मा, श्री बलबीर सिंह एवं अन्य SDRF कर्मचारी व उपनलकर्मी उपस्थित रहे।

Post a Comment

Powered by Blogger.