Halloween party ideas 2015

14 सितंबर को सभी डीएम व सीएमओ से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करेंगे समीक्षा


देहरादून:



प्रदेश में दिसम्बर 2021 तक शत-प्रतिशत कोविड-19 टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करने के लिए स्वास्थ्य विभाग कार्ययोजना तैयार कर रहा है। जिसके तहत विभाग द्वारा आगामी 17 सितंबर को राज्यभर में एक हजार केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। जिसमें दो लाख लोगों को कोविड-19 टीके की प्रथम व द्वितीय डोज लगवाने का लक्ष्य रखा गया है। विभाग को उम्मीद है कि इसी के साथ 17 सितंबर तक सूबे में एक करोड़ डोज लगाये जाने का लक्ष्य भी हासिल हो जाएगा।

मीडिया को जारी एक बयान में चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत ने कहा कि उन्होंने विभागीय अधिकारियों को आगामी 17 सितंबर को सूबे में एक हजार स्थानों पर टीकाकरण केंद्र बनाने के निर्देश दे दिए हैं, जिसमें शहरी एवं ग्रामीण दोनों क्षेत्र शामिल रहेंगे। उन्होंने बताया कि एक हज़ार केंद्रों पर 2 लाख लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है ताकि 17 सितंबर तक सूबे में कोविड-19 की एक करोड़ डोज लगाने का लक्ष्य हासिल किया जा सके।

डॉ रावत ने कहा कि सूबे में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है, उनका प्रयास है कि प्रदेश में किसी भी हाल में दिसम्बर 2021 तक सौ फीसदी वैक्सीनेशन कर लिया जाय। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि इस महाटीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए 14 सितंबर को सचिवालय से सभी जिलों के जिलाधिकारियों व मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के साथ एक वर्चुअल मीटिंग करेंगे, जिसमें महाटीकाकरण अभियान की समीक्षा की जाएगी। इस संबंध में स्वास्थ्य सचिव एवं महानिदेशक स्वास्थ्य को निर्देश दे दिये गए हैं। डॉ रावत ने बताया कि गत में राज्य को 35 लाख डोज वैक्सीन मिली है जिसमें से केवल 25 लाख डोज ही लग पाई, उनका प्रयास है कि केंद्र से वैक्सीन की डोज बढ़ाई जाए, इसके लिए वह लगातार केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के संपर्क में हैं, केंद्र द्वारा आश्वासन मिला है कि राज्य को खपत के अनुपात में डोज मुहैया करा दी जाएगी। डॉ रावत ने राज्य की आम जनता एवं स्वयं सेवी संस्थाओं तथा निजी संस्थानों से अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने की अपील की है, साथ ही उन्होंने निजी अस्पतालों के संचालकों से आग्रह किया कि वह केंद्र सरकार से निजी अस्पतालों को मिलने वाले 25 फीसदी डोज को लगवाने के लिए अलग से अभियान संचालित करें, 

ताकि दिसम्बर 2021 तक किसी भी सूरत में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन का लक्ष्य हासिल किया जा सके।


Post a Comment

Powered by Blogger.