Halloween party ideas 2015


निगम कर्मचारियों की लेटलतीफी दूर करने के लिए महापौर ने लगवाई बायोमेट्रिक मशीन

निगम की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने के लिए मेयर ने नगर आयुक्त को दिए आवश्यक निर्देश


ऋषिकेश:



नगर निगम प्रशासन महापौर के दिशानिर्देश पर पिछले ढाई वर्षों में निगम से सम्बधित समस्याओं पर तमाम तरह के अभिनव प्रयोग करता रहा है।अब निगम के कर्मचारियों लेटलतीफी को दूर करने का भी मेयर अनिता ममगाईं ने इंतजाम कर लिया है।यह संभव होगा बायोमेट्रिक मशीन से।महापौर के दफ्तर के बाहर बायोमेट्रिक मशीन लगवा दी गई है,जिसमें नगर निगम कर्मचारियों की हाजिरी अब बायोमेट्रिक से लगनी शुरू हो गई है।



महापौर ने बताया इससे लेट आने वाले कर्मियों पर नकेल कसी जाएगी। कर्मचारी बाज नहीं आए तो उनकी तनख्वाह भी काटी जा सकती है। जो शाम को ड्यूटी ऑफ के समय से पहले दफ्तर को अलविदा कह देते हैं, उन्हें भी तय समय तक रोका जा सकेगा।उन्होंने बताया कि  निगम के कर्मचारी पहले रजिस्टर में ही हाजिरी लगा रहे थे। नगर निगम में मौजूदा समय में सैकड़ों कर्मचारी हैं जिनकी हाजिरी नगर निगम के कार्यालय में ही लगती थी। बायोमेट्रिक मशीन लगने के बाद इन कर्मचारियों की हाजिरी रजिस्टर की बजाय अब मशीन में लगनी शुरू हो गई है। महापौर ने बताया कि निगम की कार्य प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए हर आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं।महापौर ने बताया कि नगर आयुक्त को भी निगम की कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने के लिए निर्देशित किया गया है।उन्होंने कहा की बायोमेट्रिक मशीन कर्मचारियों को समय का पाबंद बनाने के लिए लगवाई गई है।नगर निगम के जो कर्मचारी आफिस में लेट आते हैं और समय से पहले चले भी जाते हैं। अब उन्हें भी समय का पाबंद होना पड़ेगा। बायो मेट्रिक मशीन से पता चल जाएगा कि कौन-सा कर्मचारी लेटलतीफ और किसे समय से पहले घर जाने की जल्दी रहती है। लगातार देर से आने वाले कर्मियों को गैरहाजिर किया जाएगा।

Post a Comment

Powered by Blogger.