Halloween party ideas 2015






विगत 19 माह से अधिक समय से नियुक्ति का इंतज़ार कर रहे हैं डीएलएड डायट प्रशिक्षित बार बार धरना करने पर मजबूर हैं।सर्वप्रथम डायट प्रशिक्षितों ने प्राथमिक शिक्षा निदेशालय से माध्यमिक शिक्षा निदेशालय तक शासन व प्रशासन के विरोध में नारेबाजी के साथ रैली निकाल कर अपना विरोध प्रदर्शित किया।

तत्पश्चात प्रशिक्षित बेरोजगारों ने शिक्षा निदेशक से मिलकर अपनी मांगों को रखा गया। लेकिन वहां से सिर्फ आश्वाशन ही मिला।

प्रदेश सचिव हिमांशु जोशी ने कहा कि सरकार जल्द से जल्द कोर्ट में अर्जेंसी लगा कर कोर्ट केस का निस्तारण करे अन्यथा इस बेरुखे रवैये के विरोध में प्रतिदिन धरना उग्र होगा।

इसी के साथ उन्होंने बताया बार बार विभाग से आग्रह करने के बाद भी कोर्ट केस नहीं लगाया जा रहा इसलिए डायट डीएलएड संघ द्वारा क्रमिक अनशन और धरना प्रदर्शन  दिन रात जारी रहेगा और आगे की रणनीति स्पष्ट करते हुए उन्होंने बताया डीएलएड संघ पूरे दलबल के साथ 12 अगस्त को सचिवालय  कूच करेंगे।  अगर सरकार जल्दी इस पर संज्ञान नहीं लेती तो डिप्लोमा वापसी, जुलूस, मंत्री आवास स्थल पर धरना आदि कार्य करने को हम बाध्य होंगे।।

प्रदेश उपाध्यक्ष शुभम पंत ने बताया कि प्राथमिक भर्ती मे दायर एक वाद अनू पंत बनाम उत्तराखंड सरकार मैं न्यायालय द्वारा 1 सितंबर 2021  की अगली तिथि तय की गई है जिससे इस भर्ती के ओर लंबे समय तक पूर्ण ना होने के पूरी पूरी संभावना है जिमसें सीधे सीधे डायट प्रशिक्षितों का अहित हो रहा है। जिसमे बार बार अपनी समस्या को लेकर जा रहे प्रशिक्षित शिक्षा मंत्री और कैबिनेट मंत्री का पास जाते हैं तो वे सभीमौन धारण कर लेते हैं।

डायट डीएलएड संघ के साथ धरना में मंच साझा करने बीएड संघ भी आ गया और सभी की एक ही मांग है कि सरकार जल्दी से जल्दी कोर्ट केस का निपटारा कर हमें नियुक्ति दिलाएं।।

प्रदेश उपाध्यक्षा दीक्षा राणा ने कड़े शब्दों में सरकार को चेताया है कि हम धरने से तब तक नही उठेंगे जब तक हमको नियुक्ति नहीं मिल जाती। यदि हमारी मांग सरकार पूरी नहीं करती तो हम सभी भूख हड़ताल पर बैठने को मजबूर होंगे और इसका जिम्मा सरकार के ऊपर होगा।।अनशन पर अजय , गुंजन , दिव्या और सन्नी बैठे ।

Post a Comment

Powered by Blogger.